ताज़ा खबर
 

VIDEO: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में बोले सलमान खुर्शीद- कांग्रेस के दामन पर खून के धब्बे हैं

सलमान खुर्शीद के इस बयान के बाद भाजपा ने कांग्रेस पर सीधा हमला बोल दिया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि कांग्रेस के लिए पश्चाताप का समय आ गया है।

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद। (पीटीआई फोटो)

पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के एक बयान से कांग्रेस बड़ी मुसीबत में फंसती हुई नजर आ रही है। दरअसल, सलमान खुर्शीद ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस के दामन पर मुस्लिमों के खून के धब्बे हैं। उन्होंने यहां तक कह डाला कि एक कांग्रेसी नेता होने के नाते उनके भी दामन पर मुस्लिमों के खून के धब्बे हैं। सलमान खुर्शीद अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के वार्षिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। वहां एक छात्र ने कांग्रेस के शासनकाल में ही मुस्लिमों के खिलाफ हुए दंगों में कांग्रेस नेता की प्रतिक्रिया मांगी थी। सामने आए वीडियो में एक छात्र सलमान खुर्शीद से पूछता हुआ नजर आ रहा है कि हाशिमपुरा, मलियाना, मुजफ्फरनगर के साथ पूरी लिस्ट है, जिसमें कांग्रेस शासनकाल में मुस्लिमों के खिलाफ दंगे हुए। छात्र ने आगे सवाल पूछा कि कांग्रेस के ही शासनकाल में बाबरी मस्जिद के दरवाजे खुले, उसमें मूर्तियों को रखा गया। यह सब तब हुआ जब केंद्र में कांग्रेस सरकार थी।

छात्र के इस सवाल के जवाब में पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हमारे दामन पर खून के धब्बे हैं। इसी वजह से आप हमसे कह रहे हैं। खुर्शीद ने आगे कहा कि हमारे इतिहास से सीखो और अपना हश्र ऐसा मत करो। खुर्शीद ने आगे कहा कि तुम अपना हाल ऐसा मत करो। जब दस साल बाद अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी आओ तो आप जैसा कोई सवाल पूछने वाला ना मिले।

सलमान खुर्शीद के इस बयान के बाद भाजपा ने कांग्रेस पर सीधा हमला बोल दिया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि कांग्रेस के लिए पश्चाताप का समय आ गया है। वहीं, कांग्रेस नेता मीम अफजल का कहना है कि उन्हें पूरी जानकारी नहीं है, इसलिए मामले में पूरी जानकारी होने के बाद ही कुछ कह सकते हैं। दूसरी तरफ, आरएसएस विचारक राकेश सिन्हा ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि सलमान खुर्शीद आधा सच बोल रहे हैं, क्योंकि मुसलमानों के ही नहीं, सिखों के भी खून के धब्बे कांग्रेस पर लगे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App