ताज़ा खबर
 

केरल में कम्युनिस्ट बाकायदा धमकी देकर कर रहे हैं निर्मम हत्याएं- योगी आदित्यनाथ

देश के अंदर जो भी जहां भी अराजकता फैलाएगा, उसके खिलाफ हम एक जुट होंगे।
Author November 5, 2017 23:23 pm
उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (फोटो सोर्स- PTI)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केरल में साम्यवादियों की गुंडागर्दी और अराजकता है। अपनी हाल ही की केरल यात्रा पर उन्होंने कहा, “केरल में साम्यवादियों की गुंडागर्दी और अराजकता है। भाजपा ने उस अराजकता के खिलाफ पद यात्रा की जिसमें मैं शामिल हुआ। वह निर्मम हत्याएं कर रहे और बाकायदा धमकी देकर। देश के अंदर जो भी जहां भी अराजकता फैलाएगा, उसके खिलाफ हम एक जुट होंगे।”  लखनऊ के भारतेंदु नाट्य अकादमी में चल रहे चौथे दैनिक जागरण संवादी में धर्म विषय पर अपने मत रखते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा, “धर्म को जब हम किसी उपासना विधि से जोड़ देते हैं तो उसकी व्यापकता को कम कर देते है। वास्तव में धर्म एक ही है। वह मानव धर्म है या और व्यापक कहें तो सनातन धर्म हैं। बाकी सब सेक्ट हैं, वह धर्म की श्रेणी में नहीं आते है।”   उन्होंने कहा, “शासन की व्यवस्था धर्म निरपेक्ष नहीं होती, वह पंथ निरपेक्ष हो सकती है। धर्मनिरपेक्ष शब्द आजादी के बाद का सबसे बड़ा झूठ है। हम किसी पर अपनी आस्था नहीं थोप सकते।”

उन्होंने कहा तिलक हम अपने कपाल पर मध्य में वहां लगाते हैं जो हमारे शरीर की तीन नाड़ियों का मिलन स्थल है जो नयी ऊर्जा का निर्माण करता है। हम उस ऊर्जा का आध्यात्मिक और सकारात्मक उपयोग कर सकें इसलिए हम तिलक लगाते हैं। कर्मकांड के नाम पर रूढ़ियां नहीं थोपनी चाहिए। हम घर में तुलसी का पौधा लगाएं और उसका काढ़ा पिएं तो डेंगू नहीं होता। कई चीजें पाखंड नहीं, भारत की सनातन धर्म की परंपरा का वैज्ञानिक आधार है जैसे रक्षा सूत्र, जैसे सर की चोटी।

मठ से लेकर मुख्यमंत्री तक के सफर पर आदित्यनाथ ने कहा, “सत्ता लोक कल्याण का सशक्त माध्यम है। एक आचार्य के रूप में भी मैं लोक कल्याण करता हूं। धर्म और राजनीति एक दूसरे के पूरक हैं। दोनों को अलग नहीं कर सकते।”  भारत में असहिष्णुता के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा, “हम लोग सर्वे भवन्तु सुखिन: की बात करते हैं, वसुधैव कुटुम्बकम की बात करते हैं तो सारी दुनिया की बात करते हैं। असहिष्णु कहने वाले वह लोग हैं जिन्होंने भारत को कभी एक राष्ट्र माना ही नहीं। कम्युनिस्ट आंदोलन की सबसे बड़ी विफलता यह रही कि उसने भारत को एक राष्ट्र नहीं माना।”

हिन्दू आतंकवाद पर मुख्यमंत्री योगी ने कहा, “जिन्होंने हिंदुत्व को नहीं समझा, जो विदेशी जूठन खा कर अपना पेट पालते हैं वही हिन्दू आतंकवाद की बात करते हैं। देश की जनता ने उन्हें खारिज कर दिया है।” उत्तर प्रदेश और देश के भविष्य और विकास पर उन्होंने कहा, “देश को अगर महाशक्ति बनाना है तो उसका रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर जाता है। पांच सात साल लगेंगे, यह देश का सबसे समृद्ध क्षेत्र बनेगा। यहां टूरिज्म को बढ़ावा देना है उसके माध्यम से रोजगार बढ़ाना है। हम प्रोग्रेसिव उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ रहे हैं। यह जातिवाद और व्यक्तिवाद परिवारवाद में बांटा नहीं जाएगा। हम कला संस्कृति को भी बहुत बढ़ावा देंगे। अयोध्या में दिवाली का समारोह इसकी शुरुआत है।” दैनिक जागरण की पहल संवादी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “संवादी एक बहुत उपयुक्त कार्यक्रम है। संवाद और हिंदी भाषा को बढ़ाने के लिए यह बेहतर मंच है। मैं लेखकों से आह्वान करूंगा कि वह सकारात्मक मुद्दों पर लिखें। भारतीय लेखन हमेशा सकारात्मक रहा है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App