ताज़ा खबर
 

उत्‍तर प्रदेश चुनाव: बीजेपी किसी को नहीं बनाएगी मुख्‍यमंत्री पद का उम्‍मीदवार

उत्‍तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Photo Source: PTI)

भारतीय जनता पार्टी ने ऐलान किया है कि विधानसभा चुनावों से पहले वह उत्‍तर प्रदेश में मुख्‍समंत्री पद के उम्‍मीदवार का ऐलान नहीं करेगी। यूपी बीजेपी अध्‍यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि भाजपा चुनावों में सीएम के चेहरे के साथ नहीं जाएगी। सोमवार को ही समाजवादी पार्टी ने ऐलान किया है कि वह अखिलेश यादव को ही आगे रखकर यूपी के समर में उतरेगी। सपा के अलावा कांग्रेस ने शीला दीक्षित और बसपा ने बहन कुमारी मायावती को मुख्‍यमंत्री पद का उम्‍मीदवार घोषित किया है। सपा के वरिष्ठ नेता किरणमय नंदा ने कहा, “मीडिया में कन्फ्यूजन है, पार्टी और आमलोगों में कोई कन्फ्यूजन नहीं है। एसपी जीतेगी और अखिलेश यादव फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे।” गौरतलब है कि तीन दिन पहले तीन (14 अक्टूबर को) ही समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने कहा था कि 2017 में मुख्यमंत्री कौन होगा, यह विधानमंडल दल की बैठक में तय होगा। मुलायम ने संकेत दिया था कि सपा मुख्यमंत्री पद के लिए पहले से तय चेहरा बदल भी सकती है। इसके बाद उनके छोटे भाई और पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव ने अखिलेश का पक्ष लेते हुए चिट्ठी लिखकर मुलायम सिंह से फैसले पर पुनर्विचार करने की मांग की थी।

चुनाव से पहले कांग्रसे को लग सकता है तगड़ा झटका, देखें वीडियो: 

शिवपाल सिंह यादव ने रविवार को साफ किया कि अगर विधान सभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की जीत होती है तो अखिलेश यादव ही मुख्यमंत्री बनेंगे। दरअसल, यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बीच सत्ता और शक्ति की लड़ाई है। शिवपाल मुलायम सिंह के काफी नजदीक हैं।

इससे पहले, सोमवार को मीडिया रिपोर्ट्स में ऐसी खबरें आई थीं कि कांग्रेस की वरिष्‍ठ नेता रीता बहुगुणा जोशी पार्टी का दामन छोड़कर भाजपा में शामिल हो सकती हैं। हालांकि इस बारे में आधिकारिक रूप से दोनों दलों ने कुछ नहीं कहा। दूसरी तरफ, रीता के भाई व भाजपा नेता विजय बहुगुणा ने कहा कि यह ‘महज अफवाह’ है और ऐसा कुछ नहीं होने जा रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App