ताज़ा खबर
 

आजम खान ने कहा- दिल्ली मस्जिद के इमाम बुखारी को देनी चाहिए योगी आदित्यनाथ पर अपनी राय

जो जीता वो सिकंदर, हम जीते हम सिकंदर कोई और जीता वो सिकंदर।

azam khan, azam khan Yogi adityanath send ministers to my class, azam khan ghaziabad, Yogi adityanath, Yogi adityanath ministers, azam on yog, akhilesh yadav, mulayam singh yadav, mayawati, adityanath yogi, adityanath, jansatta news, Hindi newsसमाजवादी पार्टी के नेता आजम खान। (फाइल फोटो)

समाजवादी नेता आजम खान हमेशा अपना बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। एक नए वीडियों में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने पर टिप्पणी देते हुए आजम खान ने कहा कि लोकतंत्र में फैसलों का सम्मान होना चाहिए। जो जीता वो सिकंदर, हम जीते हम सिकंदर कोई और जीता वो सिकंदर। वो पार्टी जीसने जीत पाई वो किसे मुख्यमंत्री बनाती है। ये उसका मामला हमसे उसका कोई मतलब नहीं। लेकिन जहां तक मुख्यमंत्री को बारे में अपनी राय देना का जवाल है हमारी जानकारी है कि भगवा वस्त्र जो लोग धारण कर लेते हैं उनका अपना अलग ही स्थान होता है तो धार्मिक व्यक्ति के बारे में और ऐसे धार्मिक व्यक्ति के बारे में जिनको राजनीतिक मान्यता भी मिल गई हो। हम समझते कि हमे कोई हक नहीं इस समय इस पर टिप्पणी करे। इन हालात में इस पर टिप्पणी करने का सबसे ज्यादा हक उलेमा काउंसिल को है। दिल्ली जामा मस्जिद के इमाम बुखारी को है। हैदराबाद की मुस्लिम पार्टी औवेसी हैं उनका बनता है। बरेली से मजहमी शख्सियत है उनका अधिकार है। ये लोग ज्यादा बेहतर राय रख सकते हैं। हमारा विचार ये ही है कि लोकतंत्र का सम्मान होना चाहिए।

इससे पहले रामपुर में अपने समर्थकों के बीच में बोलते हुए आजम खान ने पीएम की भाषण में कहीं गई बात फलों से लदों हुए पेड़ झुक जाते हैं का जवाब देते हुए कहा कि, ” हम चाहते हैं कि वो समझ लें, कि अक्सर ऐसा भी होता है कि जब ज्याद फल आ जाते हैं तो जड़ टूट जाती है और पेड़ गिर जाता है। तो जितने फल आएं हैं। उनके पेड़ों में उसे संभाल के रखे।” इससे पहले चुनाव नतीजें आने से पहले आजम ने कहा था कि अगर राज्य में उनकी पार्टी हारती है तो इसके लिए अकेले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जिम्मेदार नहीं होंगे। आजम के मुताबिक अखिलेश की हार हुई तो सबकी हार होगी। आजम खान ने कहा, अगर उप्र विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ता है तो इसका ठीकरा अखिलेश के सिर नहीं बल्कि जनता पर फोड़ा जाना चाहिए। बकौल आजम इस हार के लिए सपा के सहयोगी दल और खुद प्रदेश की जनता जिम्मेदार होगी। यहां तक कि आजम ने यह भी कह दिया कि अगर उनकी पार्टी हारी तो प्रदेश की जनता भुगतेगी।

Next Stories
1 भाजपा ने पिछड़ों और ब्राह्मणों के साथ किया विश्वासघात: मायावती
2 उत्तर प्रदेश: शपथ लेने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने मंत्रियों से मांगा आय का ब्योरा
3 यूपी में योगी राज, आज लेंगे शपथ
ये पढ़ा क्या?
X