ताज़ा खबर
 

पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक प्रधान पर बलात्कार के आरोप में FIR दर्ज

11 महीने पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक प्रधान ने ससुराल में ही उसके साथ बलात्कार किया था।

Bulanshahr, Uttar Pradesh, Rape Victim, Teen Force for Abortion in Bulandshahr, Kotwali Dhat Police Station, IPC 313, Pasco Act, Rape, Rapistइस तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ खबर के प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और समाजवादी पार्टी नेता अशोक प्रधान के खिलाफ रेप का मामला दर्ज हुआ है। पीड़िता ने दिल्ली के मॉडल टाउन पुलिस थाने में जीरो एफआइआर दर्ज कराई है। घटनास्थल नोएडा में होने की वजह से मॉडल टाउन पुलिस ने नोएडा के थाना सेक्टर- 24 में जीरो एफआइआर ट्रांसफर की है। एसपी सिटी दिनेश यादव ने बताया कि मामला दर्ज कर जांच की जा रही है। दूसरी ओर प्रधान ने अपने पर लगे आरोपों को निराधार बताया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली के मॉडल टाउन में रहने वाली युवती की शादी 2 साल पहले सेक्टर- 33 के सी ब्लॉक में रहने वाले उद्योगपति एवं कई सामाजिक संगठनों से जुड़े पंकज जिंदल के बेटे आशीष के साथ हुई थी। शादी कराने में पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक प्रधान की अहम भूमिका रही थी। युवती के मुताबिक ससुराल पक्ष के सदस्य उसके साथ मारपीट कर दहेज की मांग करते थे, जिससे परेशान होकर वह मायके चली आई थी।

युवती ने आरोप लगाया है कि 11 महीने पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक प्रधान ने ससुराल में ही उसके साथ बलात्कार किया था। साथ ही युवती ने अपने पति को नपुंसक बताते हुए अप्राकृतिक यौन शोषण करने के अलावा ससुर पंकज जिंदल पर भी बलात्कार का आरोप लगाया है। जबकि सास सविता जिंदल, ननद अंकिता और एक अन्य व्यक्ति प्रताप मेहता पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। युवती ने अशोक प्रधान समेत ससुराल पक्ष के खिलाफ जान से मारने की धमकी देने की भी शिकायत की है।
थाना सेक्टर- 24 पुलिस का कहना है कि 14 सितंबर को युवती की शिकायत पर दिल्ली के मॉडल टाउन थाने में अशोक प्रधान, पंकज जिंदल, आशीष जिंदल, सविता, अंकिता और प्रताप मेहता के खिलाफ बलात्कार, अप्राकृतिक यौन शोषण, दहेज उत्पीड़न और जान से मारने की धमकी के मामले में जीरो एफआइआर दर्ज की थी।
उधर, अशोक प्रधान ने आरोपों को पूरी तरह निराधार बताया है। उन्होंने बताया कि यह दो परिवारों के बीच का झगड़ा है। युवती के ससुराल वालों के नजदीक होने की वजह से मामले में उनका नाम घसीटा गया है। उन्होंने कहा कि जांच में सब स्पष्ट हो जाएगा।

Next Stories
1 UP: मंत्री बनते ही गायत्री मुलायम के चरणों में, पप्पू निषाद कैबिनेट से बाहर, राजकिशोर की नहीं हुई वापसी
2 उत्तर प्रदेश: गैंगरेप की शिकार लड़की ने की खुदकुशी, सभी आरोपी जेल में
3 उप्र कैबिनेट में गायत्री के वापसी पर बोलीं मायावती, अखिलेश बने ‘यूटर्न’ लेने वाले मुख्यमंत्री
आज का राशिफल
X