ताज़ा खबर
 

ओवैसी ने दी विपक्षी पार्टियों को बहस की चुनौती, कहा- उप्र में समाजवाद नहीं, ‘यादववाद’ फैला हुआ है

हैदराबाद के सांसद असदउद्दीन ओवैसी ने कहा कि इस कौम ने सब पर भरोसा किया लेकिन मुसलमानों को पिछड़ेपन के सिवा कुछ नहीं मिला।

Author लखनऊ | August 13, 2016 10:08 PM
एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी। (पीटीआई फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राज्य में अपनी पार्टी की जड़ें जमाने में जुटे आल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष सांसद असदउद्दीन ओवैसी ने आज (शनिवार, 13 अगस्त) विपक्षी दलों को देश में मुसलमानों की स्थिति और खुद पर लगने वाले तमाम आरोपों पर बहस करने की चुनौती दी। ओवैसी ने यहां पार्टी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि आजादी के बाद से ही देश के मुसलमानों की हालत बद से बदतर होती गयी लेकिन कांग्रेस समेत किसी भी दल ने इस तरफ ध्यान देने की जहमत नहीं उठायी। उन्होंने कहा, ‘सपा, बसपा, कांग्रेस और भाजपा के नेता मुझे साम्प्रदायिक बताते हैं। कहते हैं कि हम भड़काऊ भाषण देते हैं लेकिन जो उनके नेता भाषण देते हैं क्या उसमें फूल बरसते हैं? हम तो लोगों के 70 साल से दबे जज्बात को बताते हैं। संविधान ने हमें अपने हक के लिये लड़ने का हक दिया है।’

HOT DEALS
  • I Kall Black 4G K3 with Waterproof Bluetooth Speaker 8GB
    ₹ 4099 MRP ₹ 5999 -32%
    ₹0 Cashback
  • Moto Z2 Play 64 GB Lunar Grey
    ₹ 14999 MRP ₹ 29499 -49%
    ₹2300 Cashback

ओवैसी ने कहा, ‘हम सारी पार्टियों को खुली चुनौती देते हैं कि वे मुसलमानों के हालात और हम पर लगाए जाने वाले आरोपों पर हमारे जलसे में आकर बहस करें या हम उनके जलसे में आकर बहस कर सकते हैं।’ हैदराबाद के सांसद ने कहा कि देश की आजादी में मुसलमानों का भी योगदान रहा है। मौलानाओं ने अंग्रेजों के खिलाफ जेहाद के फतवे दिए थे लेकिन इतिहासकार इन बातों का जिक्र नहीं करते। इस कौम ने सब पर भरोसा किया लेकिन उसे पिछड़ेपन के सिवा कुछ नहीं मिला। उन्होंने अपनी-अपनी पार्टी का मुस्लिम चेहरा कहे जाने वाले सपा नेता आजम खां, बसपा नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी और कांग्रेस महासचिव गुलाम नबी आजाद को मुस्लिम ‘डीलर’ करार दिया।

उत्तर प्रदेश में पूरी तरह से जातिवाद फैलने का आरोप लगाते हुए असदउद्दीन ओवैसी ने कहा कि सूबे में समाजवाद नहीं बल्कि ‘यादववाद’ फैला हुआ है और हर थाने में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के रिश्तेदार मिल जाएंगे। प्रदेश के नगर विकास मंत्री आजम खां पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि एक मंत्री की भैंस चोरी नहीं हुई थी बल्कि उनसे परेशान हो कर भाग गयी थी जैसे अब दलित और मुसलमान भाग रहे हैं। उनकी देखादेखी अब एक भाजपा सांसद ने कल्लू नामक अपने कुत्ते के चोरी होने की रिपोर्ट दर्ज करवायी है। सूबे की सियासत अब भैंस और कल्लू तक सिमट रही है। गोरक्षा के नाम पर गुंडागर्दी पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कड़े रुख का जिक्र करते हुए एआईएमआईएम के अध्यक्ष ने कहा कि उन्होंने राजनाथ सिंह से साफ कह दिया है कि सारे तथाकथित गौ रक्षक उनकी ही पार्टी के हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App