ताज़ा खबर
 

अमित शाह बोले- क्या मैं बंदूक दिखाकर नीतीश को लालू के साथ रहने को कहता!

शाह ने इस प्रेस वार्ता के कई मुद्दों पर अपनी बात रखी है।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (पीटीआई)

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आज (31 जुलाई) उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक प्रेस वार्ता की है। शाह ने इस प्रेस वार्ता के कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। शाह ने मुख्य रूप से भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार के तीन साल के कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाई। इसके अलावा शाह ने बिहार के राजनीतिक घमासान को लेकर भी पत्रकारों के सवालों का जवाब दिया। नीतीश कुमार के दोबारा बीजेपी का समर्थन हासिल कर सरकार बनाने को लेकर शाह ने कहा, “हमने किसी दल को तोड़ने का काम नहीं किया। नीतीश भ्रष्टाचारियों के साथ नहीं रहना चाहते हैं इसीलिए उन्होंने इस्तीफा दिया। मैं क्या बंदूक दिखाकर उनको साथ रहने के लिए कहता!” इसके अलावा शाह ने राम मंदिर को लेकर भी कहा, “कोर्ट के फैसले या सम्वाद से ही राम मंदिर बनेगा।”

वहीं अमित शाह ने गौ-मंत्रालय बनाने की सवाल पर जवाब दिया, “इसे लेकर काफी सारी अर्जियां मिली हैं कि और इस पर विचार किया जाएगा।” वहीं शिवपाल यादव के बीजेपी जॉइन करने की अफवाहों को भी शाह ने खारिज किया। उन्होंने कहा कि शिवपाल यादव के बीजेपी के शामिल होने की कोई चर्चा नहीं है।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA Dual 16 GB (White)
    ₹ 15940 MRP ₹ 18990 -16%
    ₹1594 Cashback
  • Vivo V7+ 64 GB (Gold)
    ₹ 17990 MRP ₹ 22990 -22%
    ₹900 Cashback

इसके अलावा शाह ने और भी कई मुद्दों को लेकर अपनी बात रखी और अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाई। उन्होंने कहा कि, “13 हजार गांवों तक बिजली पहुंचाई गई है। तीन साल में हमारी सरकार पर एक भी भ्रष्टाचार के मामले का कोई आरोप नहीं लगा है। कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में भ्रष्टाचार का अंबार था।” कानून व्यवस्था को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में शाह ने आगे कहा, “राज्य में कानून व्यवस्था पिछली सरकार के कार्यकाल के दौरान बदहाल थी। इसे सुधारने में थोड़ा वक्त लगेगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App