ताज़ा खबर
 

हेलमेट पहनने पर लखनऊ पुलिस ने गुलाब दिया, घर पहुंचा तो बीवी से हो गई लड़ाई

लखनऊ की यातायात पुलिस के सिपाही हैलेमेट पहनने वाले बाइक सवारों को गुलाब के फूल भी दे रही है। लेकिन नियम-कानून का पूरी ईमानदारी से पालन करने वाला एक बाइक चालक गुलाब के कारण घर पहुंचने के बाद संकट में फंस गया।

लखनऊ पुलिस के यातायात उप निरीक्षक प्रेम शाही बाइक चालकों को तोहफे में गुलाब देते हुए। फोटो- फेसबुक।

सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत यूपी की राजधानी लखनऊ की यातायात पुलिस ने अनोखा अभियान शुरू किया है। अभियान के तहत पुलिस खुले सिर चलने वालों को हेलमेट भेंट दे रही है जबकि हेलमेट पहनकर चलने वालों को धन्यवाद दे रही है। आभार जताने के लिए, पुलिस के सिपाही हैलेमेट पहनने वाले बाइक सवारों को गुलाब के फूल भी दे रही है। लेकिन नियम—कानून का पूरी ईमानदारी से पालन करने वाला एक बाइक चालक गुलाब के कारण घर पहुंचने के बाद संकट में फंस गया।

उसकी पत्नी को यकीन नहीं हुआ कि ये गुलाब पुलिस ने बतौर तोहफे में दिया है और दंपति के बीच इसे लेकर जमकर झगड़ा हुआ। बाइक चालक ने अपनी पत्नी को समझाने की खूब कोशिश की। उसने अपनी पत्नी को बताया कि ये गुलाब उसे सिकंदर बाग चौराहे पर शहर की ट्रैफिक पुलिस ने दिया है। ये गुलाब उसे यातायात जागरूकता अभियान के तहत मिला है लेकिन वह उसे समझाने में नाकाम रही।

यातायात विभाग के उप निरीक्षक प्रेम शाही ने इस पूरे वाकये को फेसबुक पर पोस्ट लिखकर बयान किया। उन्होंने बताया कि वह लड़का अगले दिन उन्हें उस मुसीबत के बारे में बताने के लिए आया, जिसमें वो बेमतलब फंसा हुआ था। उसकी मुश्किल को समझते हुए, शाही ने अपने मोबाइल से वह फोटो खोज निकाली और उसे दे दी।

सुरक्षा के तौर पर वह शख्स शाही की फूल देते हुए एक और फोटो लेकर गया और अपनी पत्नी को दे दी। उन्हें उम्मीद है कि दो फोटो उनके झगड़े को सुलझाने में मदद करेंगे और बीच की सारी गलतफहमियों को दूर कर देंगे। इस पूरे वाकये को शाही ने आॅनलाइन शेयर किया है और नेटसेवियों को दो हिस्सों में बांट दिया है। जिस मुहिम को सद्भाव के तौर पर शुरू किया गया था, कहीं अब वह लोगों में अलगाव तो नहीं पैदा कर रही है।

सोशल मीडिया पर ये खबर वायरल होने के बाद यूपी पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी राहुल श्रीवास्तव ने भी इस पर चुटकी ली। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि एजेंसी को अगली बार फूल (गुलाब) की बजाय गोभी का फूल देने पर विचार करना चाहिए। पिछले साल ईद के मौके पर मुंबई पुलिस ने शहर की मस्जिदों से नमाज पढ़कर बाहर निकलने वालों को गुलाब के फूल तोहफे के तौर पर दिए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App