ताज़ा खबर
 

राम मंदिर बनाने के पक्षधर हैं योगी आदित्यनाथ के इकलौते मुस्लिम मंत्री मोहसिन रजा

मोहसिन रजा पहली बार तब चर्चा में आए थे जब उन्होंने 2013 में बीजेपी के समर्थन में पोस्टर लगाए थे।

Mohsin Razaयोगी आदित्यनाथ सरकार के इकलौते मुस्लिम मंत्री मोहसिन रजा। (फोटो-PTI)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने मंत्रिपरिषद में मोहसिन रजा को मुस्लिम चेहरे को तौर पर राज्य मंत्री बनाया है। इन्हें राजनाथ सिंह का करीबी माना जाता रहा है। इनकी पहुंच का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि ये विधान मंडल के किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं। बावजूद इसके उन्हें मंत्री बनाया गया है जबकि कई ऐसे नेता हैं जो पांच-छह बार से विधायक चुने जा रहे हैं लेकिन मंत्री नहीं बनाए जा सके। मोहसिन रजा भाजपा के प्रवक्ता भी हैं।

क्रिकेट से राजनीति में आने वाले मोहसिन रजा उन्नाव जिले के सफीपुर के निवासी हैं। इनका जन्म 15 जनवरी 1975 को सफीपुर में ही हुआ था। मोहसिन ने आठवीं तक की पढ़ाई उन्नाव के महात्मा गांधी स्कूल से की है। उसके बाद हाईस्कूल की पढ़ाई गवर्नमेंट जुबली इंटर कॉलेज, लखनऊ से की है। इसके बाद उन्होंने लखनऊ यूनिवर्सिटी से उच्च शिक्षा हासिल की। 42 साल के मोहसिन रजा ने लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) और विद्युत विभाग में नौकरी भी की है। वहां से इस्तीफा देने के बाद उन्होंने कांग्रेस की तत्कालीन बड़ी नेता और मौजूदा मणिपुर की राज्यपाल नजमा हेपतुल्ला के साथ भाजपा की सदस्यता ली थी। इन दोनों नेताओं ने तब राजनाथ सिंह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए थे।

मोहसिन रजा की साफ छवि के नेता माने जाते हैं। इलाके में वो सभी वर्गों के बीच लोकप्रिय हैं। मोहसिन रजा की पत्नी फोजिया सरवर फातिमा ने MBA की पढ़ाई की है। मोहसिन रजा पहली बार तब चर्चा में आए थे जब उन्होंने 2013 में बीजेपी के समर्थन में पोस्टर लगाए थे। अभी हाल ही में चुनावों के दौरान उन्होंने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के समर्थन में भी बयान दिया था। मंत्री पद संभालने के बाद मोहसिन रजा को छह महीने के अंदर विधान सभा या विधान परिषद की सदस्यता हासिल करनी होगी। हालां कि ऐसा करने वाले वो अकेले मंत्री नहीं होंगे। उनके साथ खुद मुख्यमंत्री, दोनों उप मुख्यमंत्री और एक मंत्री भी होंगे। ये लोग भी फिलहाल किसी सदन के सदस्य नहीं हैं। नियमानुसार सभी को किसी न किसी सदन का सदस्य 6 महीने के अंदर बनना होगा।

Next Stories
1 मंत्रियों के बाद अफसरों को भी यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ का फरमान- 15 दिन में दें संपत्ति और आयकर का ब्‍योरा
2 योगी आदित्‍यनाथ की मंत्रियों को नसीहत पर दिग्विजय सिंह का तंज- पहले खुद को सुधारें, फिर दूसरों को दें सलाह
3 योगी आदित्यनाथ का जातीय गणित: 1 यादव, 1 मुस्लिम, 1 सिख, 17 ओबीसी चेहरों को बनाया मंत्री, 20 से ज्यादा सवर्णों को भी मिली जगह
ये पढ़ा क्या?
X