scorecardresearch

लोहिया ने कहा था- राम कर्म, कृष्‍ण हृदय और शिव मस्तिष्क हैं, सपा का मन काशी, मथुरा, अयोध्या सुनते ही कसैला हो जाता है, बोले केशव प्रसाद मौर्य

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने काशी, मथुरा और अयोध्या के मुद्दे को लेकर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि इन मुद्दों पर कांग्रेस को सांप सूंघ जाता है और सपा का मन कसैला हो जाता है।

Keshav Prasad Maurya|Samajwadi Party|Ayodhya
यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (फोटो सोर्स: PTI/ फाइल)।

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य मंदिर-मस्जिद विवाद को लेकर विपक्षी पार्टियों पर हमलावर हो गए हैं। उनके निशाने पर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस हैं। उन्होंने काशी, अयोध्या और मथुरा को लेकर दोनों पार्टियों पर हमला बोला है। उन्होंने अपने ट्वीट में डॉ राम मनोहर लोहिया के जरिए सपा की नीति पर करारा हमला किया है।

उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, “समाजवादी पार्टी का मन काशी, मथुरा और अयोध्या का नाम सुनकर कसैला हो जाता है और कांग्रेस को सांप सूंघ जाता है। वहीं, सोशलिस्ट लीडर डॉ राम मनोहर लोहिया ने कहा था कि राम कर्म, कृष्ण हृदय और शिव इस देश के मस्तिष्क हैं।”

दरअसल, अखिलेश यादव के एक बयान को लेकर भारतीय जनता पार्टी उन पर हमलावर है। पिछले दिनों उन्होंने कहा था कि कहीं भी लाल कपड़ा डालकर हिंदू अपना मंदिर खड़ा कर देते हैं। ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर उनकी प्रतिक्रिया से बीजेपी उनसे काफी नाराज है।

बता दें कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण चल रहा है। वहीं, काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निर्माण हो चुका है, जबकि मथुरा का मुद्दा भी इन दिनों काफी सुर्खियों में है। देश में इस वक्त ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर सियासत गरमाई हुई है। गुरुवार (19 मई, 2022) को कोर्ट कमिश्नर विशाल सिंह की ओर से दीवानी अदालत में सर्वे रिपोर्ट दाखिल होने के बाद शिवलिंग के दावे और तीन गुंबंदों को लेकर जिन साक्ष्यों की बात की जा रही है, उसके बाद यह मुद्दा और ज्यादा गरमा गया है। उधर, एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने रिपोर्ट लीक होने को लेकर सवाल उठाए थे। उनका कहना था कि रिपोर्ट कोर्ट में पेश होने से पहले मीडिया में कैसे आ गई।

इसके अलावा, अंजुमन इंतेजामिया की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार (20 मई, 2022) को सुनावई होनी है। शीर्ष न्यायालय ने निचली अदालत को ज्ञानवापी मामले में आगे की सुनवाई तब तक नहीं करने को कहा, जब तक कि वह आज इसमें सुनवाई नहीं कर लेता।

पढें उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट