ताज़ा खबर
 

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी चुनाव: कश्मीरी भी बना पदाधिकारी, कहा- सरकार पर बनाएंगे दबाव

इतिहास से पीएचडी कर रहे राथर ने एम. कॉम स्टूडेंट फैजल नदीम, एम. टेक छात्र राओ फराज वारिस, एमएफसी स्टूडेंट विक्रांत जोहरी और पीएचडी कर रहे ऐजाज अहमद को हरा कर उपाध्यक्ष पद पर कब्जा किया है।
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में हुए छात्रसंघ चुनाव के नतीजों का ऐलान कर दिया गया है। इन चुनावों की घोषणा सोमवार को देर रात की गई। यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स ने इस बार बिहार के रहने वाले बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी (बीडीएस) के छात्र मशकूर अहमद उस्मानी को अध्यक्ष चुना है तो वहीं कृषि व्यवसायी (Agro-business) के छात्र मोहम्मद फहद को सचिव चुना है। इसके अलावा कश्मीरी छात्र सज्जाद सुभान राथर उपाध्यक्ष बने हैं। इतिहास से पीएचडी कर रहे राथर ने एम. कॉम स्टूडेंट फैजल नदीम, एम. टेक छात्र राओ फराज वारिस, एमएफसी स्टूडेंट विक्रांत जोहरी और पीएचडी कर रहे ऐजाज अहमद को हरा कर उपाध्यक्ष पद पर कब्जा किया है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबित कश्मीर निवासी राथर ने छात्रसंघ चुनाव के नतीजे घोषित होने के बात कहा, ‘देश में हो रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं के खिलाफ हम आवाज उठाएंगे और सरकार पर दबाव बनाएंगे। मेरी जीत केवल मेरी जीत नहीं है, बल्कि ये पूरे एएमयू के छात्रों की जीत है। मैं देश के हर नागरिक को सफल होते देखना चाहता हूं।’ बीजेपी विधायक ठाकुर दलवीर सिंह के पौत्र अजय सिंह को हराकर छात्रसंघ के अध्यक्ष बनने वाले उस्मानी का कहना है, ‘हम लोकतांत्रिक तरीके से एक साथ खड़े होकर हर मुद्दों के लिए लड़ेंगे।’ इस बार अध्यक्ष पद के लिए अजय सिंह, अबू बकर और मकसूर अहमद उस्मानी खड़े हुए थे। वहीं विक्रांत जौहरी भी उपाध्यक्ष पद के लिए खड़े हुए थे। इसके अलावा वुमंस कॉलेज छात्रसंघ में सबा नसीम को छात्रों ने अध्यक्ष चुना है।

बता दें कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ चुनाव के लिए मतदान सोमवार सुबह 9 बजे शुरू हुआ और शाम 5 बजे समाप्त हुआ। परिणामों की घोषणा आधी रात को की गई। कुल 18,200 विद्यार्थियों ने मतदान दिया। चुनाव के लिए यूनिवर्सिटी में 14 मतदान केंद्र बनाए गए थे, जहां 75 फीसदी वोटिंग हुई। इसे एएमयू के इतिहास में सबसे ज्यादा मतदान प्रतिशत कहा जा रहा है। इस चुनाव में हर छात्र ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App