scorecardresearch

कासगंज हिंसा का एक साल: चंदन के घर लहराया 30 फीट ऊंचा तिरंगा, मंत्री बोले- उसकी याद में बनेगा चौक

इसके अलावा शहर भर के बस स्टॉप, मंदिरों और गलियों को चंदन गुप्ता के बड़े-बड़े के होर्डिंग्स पाट दिया गया।

26 जनवरी, 2018 को चंदन गुप्ता की कासगंज में तिरंगा यात्रा के दौरान गोली लगने से मौत हो गई थी। (फोटो सोर्स: ट्वीटर)
पिछले साल 26 जनवरी को तिरंगा यात्रा निकालते समय दंगाइयों के हाथों मारे गए कासगंज के युवक चंदन गुप्ता के घर इस साल शनिवार (26 जनवरी, 2019) को 30 फीट ऊंचा तिंरगा फहराया गया। तिरंगा गुप्ता के माता-पिता द्वारा फहराया गया। इस दौरान करीब आधा दर्जन पुलिसकर्मी भी चंदन के घर उपस्थित रहे, जिन्होंने चंदन के घर को सुरक्षा प्रदान की। इसके अलावा शहर भर के बस स्टॉप, मंदिरों और गलियों को चंदन गुप्ता के बड़े-बड़े के होर्डिंग्स पाट दिया गया। होर्डिंग्स में गुप्ता की तस्वीर के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की तस्वीरें लगाई गईं।

चंदन गुप्ता के पारिवारिक सदस्य ने गणतंत्र दिवस से दो-तीन दिन पहले करीब दो दर्जन होर्डिंग्स शहर में जगह-जगह लगाए गए। न्यूज 18 की खबर के मुताबिक गुप्ता के अंकल संजय गुप्ता ने बताया, ‘शहर उसे याद करना चाहता था। क्योंकि इस दौरान पूरा एक साथ होता है जब उसने राष्ट्र के लिए अपनी जान दे दी। तो हमें ऐसा क्यों नहीं करना चाहिए।’ हालांकि परिवार चंदन की याद में शहर में तिरंगा यात्रा निकालना चाहता था मगर प्रशासन ने कानून व्यवस्था का हवाला देकर इसकी अनुमति देने से इनकार कर दिया।

दूसरी तरफ कासगंज के प्रभारी मंत्री सुरेश पासी ने गणतंत्र दिवस समारोह में उनके पिता सुशील गुप्ता को सम्मानित करते हुए चंदन चौक बनाने की यह घोषणा की। मंत्री ने कहा कि चंदन गुप्ता की स्मृति कायम रखने के लिए कासगंज शहर के एक चौक का नामकरण उसके नाम पर किए जाने की जिला प्रशासन से सहमति मिल चुकी है। पिछले साल 26 जनवरी को मोटर साइकिल रैली निकालते समय दो गुटों के बीच हुई झड़प में गोली लगने से चंदन की मौत हो गई थी।

पढें उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट