ताज़ा खबर
 

उत्‍तर प्रदेश: कर्ज चुकाने के लिए बेच दिया पांच महीने का बच्‍चा, फिर दर्ज कराई गायब होने की FIR

जांच में बच्‍चे को बेचे जाने की बात सामने आने के बाद पुलिस ने आरोपी दंपत्ति और हारून को गिरफ्तार कर लिया है।
चित्र का इस्‍तेमाल केवल प्रस्‍तुतिकरण के लिए किया गया है।

उत्‍तर प्रदेश के कानपुर में एक दंपत्ति ने कर्ज चुकता करने के लिए चौंकाने वाली साजिश रची। पुलिस के मुताबिक, दंपत्ति ने कर्ज चुकाने के लिए अपने पांच महीने के बच्‍चे को बेच दिया। इसके बाद बच्‍चे के अचानक गायब होने पर उठने वाले सवालों से बचने के लिए उसके लापता होने की एफआईआर दर्ज कराई। बाबू पुरवा कॉलोनी की झुग्गियों में रहने वाले खालिद और उसकी पत्‍नी सईदा ने कानपुर के एसएसपी शलभ माथुर से शिकायत की थी। दंपत्ति का कहना था कि 20 जुलाई को घर के बाहर खेलते समय उनके पांच बच्‍चों में सबसे छोटे को अगवा कर लिया गया। जांच के दाैरान पता चला कि दोनों ने अपना बच्‍चा जालौन के व्‍यापारी हारून को 1.5 लाख रुपए में बेच दिया था। पुलिस इंस्‍पेक्‍टर एके‍ सिंह ने कहा कि ऐसा उन्‍होंने अपना कर्ज चुकाने के लिए किया।

जांच में बच्‍चे को बेचे जाने की बात सामने आने के बाद पुलिस ने आरोपी दंपत्ति और हारून को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि खालिद के घर से 60,000 रुपए भी सीज किए गए हैं। सईदा ने पुलिस को बताया कि उन्‍हें कर्ज चुकाने के लिए पैसों की सख्‍त जरूरत थी, इसीलिए उन्‍होंने यह कदम उठाया। पुलिस ने कहा कि तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और आगे की जांच पूरी की जा रही है। इससे पहले, बिहार के मधुबनी जिले के झंझारपुर अनुमंडल अस्पताल में दो बच्चों को बेचने आई महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। वह हॉस्पिटल में दूसरी महिलाओं से बच्चों को बेचने की बात कह रही थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.