ताज़ा खबर
 

कानपुर: छेड़ने वालों का नाम शरीर पर लिखकर फांसी के फंदे पर झूल गई 20 साल की लड़की

एएसपी अरुण कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि कथित तौर पर दो युवकों ने मृतक का उत्पीड़न किया था। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर संबंधित धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया गया है।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात में एक युवती ने उत्पीड़न के आरोपियों का नाम शरीर पर लिखकर आत्महत्या कर ली। घटना सूबे सिकंदरा क्षेत्र की बताई जाती है। बीए में पढ़ रही युवती ने अपने शरीर पर लिखा है, ‘मैं आत्महत्या का सहारा ले रही हूं। चूंकि गांव का युवक संजय उर्फ संजू, उसकी भाभी रूबी और उनके सहयोगी सोनू मेरी मौत के जिम्मेदार हैं। कृपा कर उन्हें फांसी की सजा दें।’

एएसपी अरुण कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि कथित तौर पर दो युवकों ने मृतक का उत्पीड़न किया था। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर संबंधित धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। युवकी के शरीर पर लिखे सुसाइड नोट और परिजनों की शिकायत के आधार पर आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

बता दें मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के राज्य यूपी में इस तरह की वारदात सामने आने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने महिलाओं सुरक्षा व्यवस्था के चलते सरकार पर सवाल उठाए हैं। सूरज ने कमेंट करते हुए लिखा है कि राज्य सरकार को आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश देने चाहिए।

मी मुखर्जी लिखते हैं, ‘युवती ने अपनी जिंदगी क्यों खत्म की। बल्कि आरोपियों के साथ ऐसा होना चाहिए था।’ प्रफुल्ला कुलकर्णी लिखते हैं, ‘दोबारा इस तरह की वारदात नहीं चाहते। ऐसे लोगों को शेरों को खिला देना चाहिए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App