ताज़ा खबर
 

50 हजार के लिए अस्पताल ने मां को नहीं दिया बेटी का शव, डॉक्टरों के सामने गिड़गिड़ाते रहे परिजन

परिजनों ने अस्पताल पर गलत इलाज करने का भी आरोप लगाया है।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश में मानवता को झकझोर देने का मामला सामने आया है, जहां पैसा न चुकाने की वजह से एक मां को अस्पताल ने बेटी का शव देने से मना कर दिया। मामला कानपुर जिले के कल्यानपुर क्षेत्र का है। यहां एसपीएम असप्ताल में एक महिला को प्रसव के लिए भर्ती कराया गया था। लेकिन ईलाज के दौरान बच्चे और महिला दोनों की मौत हो गई। इस दौरान परिजनों ने अस्पताल को ईलाज के लिए करीब 1.5 लाख रुपए का भुगतान किया था। अस्पताल ने महिला और बच्चे की मौत के बाद परिजनों से कहा कि 50 हजार रुपए और जमा कराओ तभी शव मिलेगा। महिला की मौत को 18 घंटे बीत जाने के बाद भी अस्पताल ने परिजनों को महिला और बच्चे का शव नहीं दिया।

इस दौरान परिजन अस्पताल प्रशासन के सामने गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन उनका दिल नहीं पसीजा। अस्पताल ने परिजनों को बाहर निकाल दिया, उसके बाद से शुक्रवार से मृतक के परिजन अस्पताल के बाहर ही बैठ हुए हैं।

दरअसल, कानपुर जिले के बैरी गाँव की 27 वर्षीय गर्भवती रूबी को गुरूवार को SPM अस्पताल कानपुर में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी और उसके जन्मे बच्चे की मौत हो गई थी। परिजन 2 दिनों में इलाज के दौरान डेढ़ लाख रुपए अस्पताल प्रशाशन को दे चुके थे। लेकिन अब अस्पताल प्रसाशन 50 हजार रुपए और मांग रहा है। परिजनों द्वारा 50 हजार रुपए नहीं दिए जाने पर अस्पताल प्रशासन ने परिजनों को शव नहीं दिया।

परिजनों का कहना है कि इलाज के लिए हमने करीब डेढ़-दो लाख रुपए दे चुके हैं। हमने यह राशि अपने गहने बेचकर दिए थे, अब हमारे पास कुछ नहीं है। अब हमारे पास अपना शरीर हैं, उसके बेच सकते हैं। हमने अस्पताल प्रशासन को इस बारे में बताया लेकिन उनका दिन नहीं पसीजा।

वीडियो- मध्य प्रदेश: वाहन नहीं मिला तो रिक्शे पर लादकर ले जाना पड़ा शव

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App