ताज़ा खबर
 

यूपी: सीओ का आरोप- बीजेपी नेता दे रहा अंजाम भुगतने की धमकी

सर्किल ऑफिसर द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, बीजेपी कार्यकर्ता सुरेश तोमर और उनके बेटे ने अभिनव ने कुछ दिन पहले एक दलित व्यक्ति के साथ मारपीट की थी। पीड़ित व्यक्ति की मेडिकल रिपोर्ट में आया था कि उसके सीधे हाथ में फ्रैक्चर है और उसके सिर में गंभीर चोटे हैं।

Author शाहजहांपुर | March 18, 2018 2:10 PM
बीजेपी नेता मनोज कश्यप। (Photo Source: Facebook@ManojKashyap)

शाहजहांपुर जिले में जलालाबाद इलाके के सर्किल ऑफिसर बलदेव सिंह खनहेड़ा ने स्थानीय बीजेपी नेता मनोज कश्यप पर उन्हें एक केस को छोड़ने के लिए धमकी देने का आरोप लगाया है। बलदेव सिंह का कहना है कि दो पार्टी कार्यकर्ताओं पर एक दलित के साथ मारपीट करने के केस को छोड़ने के लिए उनपर दवाब बनाया जा रहा है। सर्किल ऑफिसर द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, बीजेपी कार्यकर्ता सुरेश तोमर और उनके बेटे अभिनव ने कुछ दिन पहले एक दलित व्यक्ति के साथ मारपीट की थी। पीड़ित व्यक्ति की मेडिकल रिपोर्ट में आया था कि उसके सीधे हाथ में फ्रैक्चर है और उसके सिर में गंभीर चोटे हैं।

कलान पुलिस थाने में सुरेश तोमर और उनके बेटे अभिनव के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट और आईपीसी की धारा 325 के तहत केस दर्ज कराया गया है। बलदेव सिंह ने बताया कि शनिवार को समाधान दिवस के दिन वे जलालाबाद पुलिस स्टेशन में मौजूद थे जब स्थानीय नेता मनोज कश्यप और पार्टी के अन्य कार्यकर्ता स्टेशन पहुंच गए। स्टेशन पहुंचने के बाद उन लोगों ने वहां हंगामा खड़ा कर दिया और पुलिस से केस वापस लेने की मांग करने लगे।

इतना ही नहीं बलदेव सिंह ने आरोप लगाया है कि मनोज कश्यप ने उन्हें धमकी दी थी कि या तो केस वापस ले लो वरना इसका परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना। वहीं इस मामले को लेकर मनोज कश्यप का कहना है कि पार्टी कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने जो केस दर्ज किया है उसमें कोई सत्य नहीं है। इसके साथ ही मनोज कश्यप ने सर्किल ऑफिसर बलदेव सिंह खनहेड़ा को तत्काल प्रभाव से हटाने की मांग की है। मनोज कश्यप ने कहा, “कार्यकर्ताओं के लिए इसलिए संघर्ष कर रहे हैं क्योंकि मैं भी एक कार्यकर्ता हूं।” मनोज कश्यप ने अपने फेसबुक अकाउंट पर पुलिस थाने में किए गए हंगामा का वीडियो भी पोस्ट किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App