ताज़ा खबर
 

योगी आदित्‍यनाथ की मंत्रियों को नसीहत पर दिग्विजय सिंह का तंज- पहले खुद को सुधारें, फिर दूसरों को दें सलाह

शर्मा ने कहा कि नये विधायकों के प्रशिक्षण के लिए कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना के नेतृत्व में एक कमेटी बनेगी, जिसमें प्रयास होगा कि सभी विधायकों की भलीभांति ‘ट्रेनिंग’ हो।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह (Photo Source: PTI)

राज्यसभा सांसद और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने उत्तर प्रदेश में पहली कैबिनेट की बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नसीहत पर तंज कसा। सिंह ने सोमवार को कहा कि योगी मंत्रियों को नसीहत देने से पहले खुद को सुधार लें। बता दें कि रविवार को यूपी में कैबिनेट की पहली बैठक बुलाई गई थी। बैठक में सीएम ने कहा था कि वो 15 दिनों के अंदर अपनी आय का ब्योरा दें। इसके साथ वो मीडिया में अनाप-शनाप बयान देने से बचे। मीडिया से बातचीत करते हुए यूपी के कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने कैबिनेट के मंत्रियों से अनुरोध किया है कि उन्हें मीडिया में अनावश्यक बयान देने से बचना चाहिए। उन्हें ऐसा कोई बयान नहीं देना चाहिए जिससे किसी की भावना को ठेस पहुंचे।’

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘भ्रष्टाचार’ को समाप्त करने के संकल्प के तहत मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों को अपनी आय और चल अचल संपत्ति का ब्यौरा उपलब्ध कराने को कहा है। सभी मंत्रियों को आय, चल-अचल संपत्ति का पूरा ब्यौरा 15 दिन में संगठन को और मुख्यमंत्री के सचिव को देना है।’

शर्मा ने कहा कि नये विधायकों के प्रशिक्षण के लिए कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना के नेतृत्व में एक कमेटी बनेगी, जिसमें प्रयास होगा कि सभी विधायकों की भलीभांति ‘ट्रेनिंग’ हो। केंद्र के भी कुछ बड़े नेता आ सकते हैं। वे कक्षाएं लेंगे।

शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री ने सभी कैबिनेट सदस्यों से आग्रह किया कि ‘जनादेश’ विकास के लिए मिला है। ये जनादेश बिजली, पानी, सड़क, कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य और किसान की बदहाली दूर करने तथा विकास और सुरक्षा के लिए मिला है। साथ ही मुख्यमंत्री योगी ने मंत्रिपरिषद के सहयोगियों को नसीहत दी कि वे अनावश्यक टिप्पणी से बचें ताकि किसी की भावना आहत न हो। उत्तर प्रदेश ‘उत्तम प्रदेश’ बने, यही हम सबका संकल्प है।

गौरतलब है कि गोरखपुर से पांच बार लोकसभा सांसद रहे योगी आदित्यनाथ ने रविवार को लखनऊ में बतौर यूपी सीएम शपथ ली है। योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में शपथ ग्रहण की। बाद में राज्यपाल राम नाईक ने केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा को उप मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। इसके साथ ही 22 कैबिनेट मंत्रियों, 09 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 13 राज्यमंत्रियों ने शपथ ली।

Next Stories
1 योगी आदित्यनाथ का जातीय गणित: 1 यादव, 1 मुस्लिम, 1 सिख, 17 ओबीसी चेहरों को बनाया मंत्री, 20 से ज्यादा सवर्णों को भी मिली जगह
2 देवबंद: रसमों-रिवाज के नाम पर मौलवी ने महिला के साथ किया रेप, गिरफ्तार
3 बलात्कार के आरोप में मसूद मदनी गिरफ्तार
आज का राशिफल
X