ताज़ा खबर
 

यूपी: मीठी चाय बनाई तो शौहर ने दी गालियां, फिर दे दिया तीन तलाक

यूपी के बरेली में चाय में शक्कर ज्यादा पड़ जाने से नाराज शौहर ने न सिर्फ बीवी को भद्दी गालियां दीं। ​बल्कि तीन बार तलाक बोल दिया। जब महिला ने अपने भाई को ससुराल से ले जाने के लिए बुलाया तो शौहर ने पुलिस बुलवाकर उस पर चोरी का आरोप लगवा दिया।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। Express photo by Neeraj Priyadarshi.

पूरे ​देश में इस वक्त तीन तलाक से पीड़ित महिलाएं अपनी आवाज बुलंद कर रही हैं। लेकिन देश में कई जगहों से तीन बार तलाक बोलकर रिश्तों को तार-तार करने की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। मामला यूपी के बरेली का है। पीड़िता का आरोप है कि उसके द्वारा चाय में शक्कर ज्यादा पड़ जाने से नाराज शौहर ने न सिर्फ उसे भद्दी गालियां दीं। ​बल्कि तीन बार तलाक बोलकर कमरे में भी बंद कर दिया। जब महिला ने अपने भाई को ससुराल से ले जाने के लिए बुलाया तो शौहर ने पुलिस बुलवाकर उस पर चोरी का आरोप लगवा दिया। अब महिला ने मेरा हक फाउंडेशन की अध्यक्ष फरहत नकवी से मदद की गुहार लगाई है।

फरहत नकवी ने मीडिया को बताया,” पीड़िता का नाम नूरी अफ्शा है। वह बरेली के रोहली टोला में रहती है। नूरी का निकाह मोहल्ले के ही रिजवान के साथ 12 अप्रैल 2017 को हुआ था। निकाह के बाद छोटी-छोटी बातों को लेकर दोनों में अनबन होने लगी। पीड़िता का आरोप है कि ससुराल वाले उससे दहेज की मांग कर रहे थे। जब मायके वालों ने दहेज देने से इंकार कर दिया तो उन्होंने पीड़िता के साथ मारपीट भी शुरू कर दी। कई बार उसे मारपीट कर घर से निकाला भी गया। लेकिन मायके वाले हर बार सुलह करवाकर उसे वापस भेज देते थे।

तीन तलाक पीड़िता नूरी ने मीडिया को बताया, शुक्रवार (10 अगस्त) की सुबह जब वह चाय लेकर अपने शौहर रिजवान के कमरे में गई। रिजवान ने चाय का पहला सिप लिया और उसे गालियां देनी शुरू कर दी। इसके बाद जब नूरी ने फिर से चाय बनाकर लाने की बात कही तो रिजवान ने उसे तीन बार तलाक बोल दिया। तलाक कहकर रिजवान ने उसे कमरे में बंद किया और बाहर चला गया।

नूरी के बार-बार दरवाजा पीटने पर पड़ोस की महिला ने आकर दरवाजा खोल दिया। बाद में नूरी ने अपनी चाची को फोन करके मामले की जानकारी दी। सूचना मिलने पर भाई उससे मिलने के लिए आया। नूरी ने बताया कि जब वह घर से जाने के लिए अपना सामान पैक कर रही थी। इसी दौरान रिजवान ने 100 नंबर पर फोन करके पुलिस बुलवा ली और उसके भाई को चोर कहकर गिरफ्तार करवा दिया।

पुलिस नूरी के भाई को लेकर बारादरी थाने आ गई। जहां पर नूरी ने पुलिस को सारी सच्चाई बताई और रिजवान के खिलाफ थाने में तहरीर दे दी। लेकिन पुलिस ने अभी तक रिजवान के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया है। पीड़िता नूरी अफ्शा ने मेरा हक फाउंडेशन की अध्यक्ष फरहत नकवी से मदद की गुहार लगाई है। फरहत नकवी ने पीड़िता महिला को मदद का भरोसा दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App