scorecardresearch

फिर हो जाए सारे मंदिर और मस्जिद का सर्वे—ज्ञानवापी विवाद के बीच उदित राज का ट्वीट, लोग यूं लेने लगे मजे

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि निचली अदालत इस मामले में कल होने वाली अगली सुनवाई तक कोई फैसला न दे।

Gyanvapi Masjid|Gyanvapi Mosque|Friday Namaz in Gyanvapi Masjid
ज्ञानवापी मस्जिद (Photo Credit- फाइल फोटो/ द इंडियन एक्सप्रेस)

वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद में कोर्ट के फैसले के बाद सर्वे का काम पूरा हो चुका है। वहीं, सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि निचली अदालत इस मामले में कल होने वाली अगली सुनवाई तक कोई फैसला न दे। दूसरी तरफ, ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में सर्वे के दौरान शिवलिंग पाए जाने के दावे के बाद सियासत गरमाई हुई है। इस विवाद के बीच, अब कांग्रेस नेता उदित राज ने एक ट्वीट कर कहा, “फिर हो जाए सारे मंदिर और मस्जिद का सर्वे”, जिस पर सोशल मीडिया पर लोगों ने तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दी हैं।

यूजर (@omprakashtiwa18) ने कहा, “सर जी की ग्रेटनेस में कोई कमी नहीं,कल तक भाजपा का गुणगान करते करते छद्मधर्मनिर्पेक्ष हो गए, इसी कारण अफगानिस्तान में आतंकवादियों द्वारा भगवान बुद्ध की मूर्तियों को बम से उड़ाने वालों के लिए कुछ बोल भी नहीं सकते।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “महोदय, जरुर करवाइये लेकिन कानून के दायरे में, PIL दायर करवाइये। लेकिन जिनको कानून पर विश्वास नहीं उनके लिए तो मैं क्या कहूं।”

इसी प्रकार एक यूजर (@JeetKum24772509) ने कहा, “लाख टके की बात, पहली बार कोई बात अच्छी लगी, हो जाये।” उदित राज के ट्वीट पर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए एक यूजर (@hemantrahory) ने कहा, “एक सर्वे कांग्रेस का भी होना चाहिए। अनेक साजिश, घोटाले और विरासत के साथ इतिहास भी निकल जाएगा।”

यूजर्स ने कांग्रेस नेता को यूं घेरा: एक यूजर (@Anilbhatt234) ने कहा, “सर्वे की तो बहुतों को आवश्यकता है, तो होना ही चाहिए।” यूजर (@kshama_pandit) ने कहा, “बिल्कुल हो जाये, आपको भी समर्थन करना चाहिए क्योंकि मुगलों ने बौद्ध धर्म को भी कम हानि नहीं पहुंचाई। बस आप जैसे लोग बोलते नहीं हैं।” यूजर (@rajasingh_RS) ने लिखा, “बिल्कुल! एक साथ, अपने अध्यक्ष महोदय से कहिए कि देश के सभी मंदिरों और मस्जिदों का सर्वे करवाने की मांग करें सरकार से और सरकार के इस कार्य मे सहयोग करने का वादा करें।” इसी तरह (@shruteshmestry) ने कहा, “बताइए, सर्वे कब शुरू करना है?”

पढें उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट