ताज़ा खबर
 

यूपी: ‘वंदे मातरम’ गाने पर मुस्लिम शख्‍स का बायकॉट, फतवे के बाद स्‍कूल से बच्‍चों का नाम तक काट दिया गया

शेरवानी (34) आगरा के आजमपुरा में रहते हैं। यह इलाका मुस्लिम बहुसंख्यक है।

Author Updated: November 29, 2017 4:32 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

यूपी के आगरा निवासी गुलचमन शेरवानी को राष्ट्रीय गीत ‘वंदे मातरम’ से अपार प्रेम के चलते अपने ही समुदाय के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। शेरवानी का आरोप है कि बंकिम चंद्र चटर्जी के इस गीत के चलते परिवार पर दबाव बनाया जा रहा है कि उनके बच्चों को इस्लामिक स्कूल में दाखिल नहीं दिया जाएगा। शेरवानी (34) आगरा के आजमपुरा में रहते हैं। यह इलाका मुस्लिम बहुसंख्यक है। उनका परिवार राष्ट्रीय ध्वज के तीन रगों वाला कपड़े भी पहनता हैं।

शेरवानी ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘वंदे मातरम पर विवाद के चलते मेरे बच्चे को स्कूल से निकाल दिया गया। मेरा बायकॉट तक कर दिया गया’ गौरतलब है कि शेरवानी जूतों से जुड़ा व्यापार करते हैं जबकि उनकी पत्नी भी काम में हाथ बंटाती हैं।

दूसरी तरफ इस्लामिक स्कूल चलाने वाले असलम खान ने बताया, ‘स्कूल ने उनके बच्चे के खिलाफ एक्शन लिया है। शेरवानी की बेटी को स्कूल से निकाला गया है। ऐसा अन्य बच्चों के परिजनों के एतराज के चलते किया गया है। मुझपर बच्चे को स्कूल से बर्खास्त करने का दबाव बनाया गया था। समुदाय के बहुत से लोगों ने बच्ची और उसके परिवार द्वारा तीन रंगों के बने कपड़े पहनने पर कड़ा एतराज जताया था। समुदाय उसके पिता द्वारा राष्ट्रीय गीत का उच्चारण करने पर भी आपत्ति थी। इसके बावजूद इसके खिलाफ फतवा दिया जा चुका है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘लव जिहाद’ के खिलाफ RSS से जुड़ा संगठन चलाएगा अभियान, 6 महीने में 2100 मुस्लिम बहुओं की घर वापसी का टारगेट
2 महाराष्ट्र का अब्दुल लश्कर आतंकी? नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र दहलाने की थी तैयारी, NIA ने दबोचा
3 सहारनपुर में कई कयासों के बीच आज पड़ेंगे वोट
ये पढ़ा क्‍या!
X