Goons allegedly abducted and beating a man and drunk their urine in UP - यूपी में मारपीट के बाद दबंगों ने होटल संचालक को पिलाया पेशाब - Jansatta
ताज़ा खबर
 

यूपी: दबंगों ने पहले जमकर पीटा, फिर पेशाब भी पिलाया! वीडियो वायरल करने का भी आरोप

मामले में होटल संचालक ने आरोप ​लगाया है कि कुछ लोगों ने शादी समारोह में हुए विवाद के बाद उसका अपहरण कर लिया। अपहरणकर्ताओं ने न सिर्फ उसके साथ मारपीट की बल्कि उसे पेशाब भी पिलाया गया। घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भी पोस्ट किया गया है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

यूपी में अपहरण के बाद मारपीट करके पेशाब पिलाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस मामले में होटल संचालक ने आरोप ​लगाया है कि कुछ लोगों ने शादी समारोह में हुए विवाद के बाद उसका अपहरण कर लिया। अपहरणकर्ताओं ने न सिर्फ उसके साथ मारपीट की बल्कि उसे पेशाब भी पिलाया गया। आरोप है कि इस पूरी घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भी पोस्ट किया गया है। अब पुलिस ने इस मामले में पीड़ित के बयान की वीडियोग्राफी करवाई है। जबकि छह लोगों को आरोपों के आधार पर हिरासत में लिया गया है।

घटना यूपी के बदायूं की है। बदायूं के एसएसपी अशोक यादव ने बताया,’होटल संचालक रवि गुप्ता ने आरोप लगाया कि वह मंगलवार (8 मई) की रात शादी समारोह में भमौरा गए थे। वहां पर लड़की से छेड़छाड़ के विवाद में विमल प्रताप सिंह से उनका झगड़ा हो गया। आरोप है कि झगड़े के बाद विमल ने अपने साथियों के साथ रवि का अपहरण कर लिया। विमल और उसके साथी रवि को जबरन अपने साथ बिनावर ले गए। वहां पर उन्होंने उसके साथ मारपीट की और जबरन पेशाब पीने के लिए मजबूर कर दिया।’ आरोपियों ने घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भी पोस्ट कर दिया।

घटना तब प्रकाश में तब आई जब ये वीडियो वायरल होने लगा। लेकिन पुलिस अभी भी इस बात की पुष्टि नहीं कर पाई है कि उसे पेशाब पिलाया गया या नहीं। पुलिस ने पीड़ित के बयान की वीडियोग्राफी करवाई है। लेकिन बताया जा रहा है कि रिकॉर्ड किए गए वीडियो में पीड़ित रवि गुप्ता ने पहले लगाए आरोप की तर्ज पर पेशाब पिलाने की बात से इंकार कर दिया है।

पीड़ित की मां ने इस मामले में तहरीर दी है। अब पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। पुलिस यह भी पता करने की कोशिश कर रही है कि इस पूरे केस में झगड़े की असली वजह क्या थी? उस गाड़ी को भी जब्त करने की कोशिश जारी है, जिससे अपहरण की घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस ने इस मामले के आरोपियों विमल प्रताप, शैलेष, जोगेन्द्र माथुर, राहुल, अतुल माथुर, आदेश, निगम चौहान, मोनू, भानू प्रताप, संदीप, मयंक, ग्रीशपाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज ​किया है। जबकि बुधवार रात में ही आरोपी आदेश, निगम चौहान, भानू प्रताप, संदीप, मयंक, गिरीश पाल को गिरफ्तार कर लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App