ताज़ा खबर
 

स्मार्ट सिटी बनेगा गाजियाबाद: योगी

गाजियाबाद को स्मार्ट सिटी के तौर पर विकसित किया जाएगा और रेहड़ी-पटरी वालों का पंजीकरण कराया जाएगा।

Author गाजियाबाद | November 19, 2017 4:05 AM
उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (फोटो सोर्स- PTI)

उत्तर प्रदेश में आगामी निकाय चुनाव की सरगर्मी के बीच शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चुनाव प्रचार के सिलसिले में गाजियाबाद पहुंचे जहां उन्होंने लोगों से उनकी पार्टी के पक्ष में मतदान करने की अपील करते हुए घोषणा की। उन्होंने कहा कि गाजियाबाद को स्मार्ट सिटी के तौर पर विकसित किया जाएगा और रेहड़ी-पटरी वालों का पंजीकरण कराया जाएगा। मुख्यमंत्री ने पश्चिम उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार किया। मुजफ्फरनगर रैली के बाद मुख्यमंत्री हेलिकॉप्टर से गाजियाबाद में घंटाघर मैदान में पहुंचे जहां उन्होंने विरोधी पार्टी पर निशाना साधा और अपनी पार्टी की तारीफ करते हुए कहा कि उनकी पार्टी में जमीनी कार्यकर्ताओं को टिकट दी गई। महापौर उम्मीदवार आशा शर्मा के समर्थन में वोट मांगते हुए उन्होंने कहा कि निकाय चुनाव केंद्र और प्रदेश सरकार की नींव होते हैं। इसलिए अगर भाजपा यहां पर भी राज करेगी तो विकास दुगनी रफ्तार से होगा। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अगर विकास के नाम पर दिए गए कोष का सही इस्तेमाल हुआ होता तो गाजियाबाद की हालत सुधर सकती थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। हम गाजियाबाद को स्मार्ट सिटी की तरह विकसित करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में निवेश के अवसर बढ़े हैं। युवाओं को रोजगार दिलाने की दिशा में काम किया जा रहा है।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Gold
    ₹ 25900 MRP ₹ 29500 -12%
    ₹3750 Cashback
  • Panasonic Eluga A3 Pro 32 GB (Grey)
    ₹ 9799 MRP ₹ 12990 -25%
    ₹490 Cashback

रेहड़ी-पटरी वालों का पंजीकरण कराया जाएगा, ताकि उन्हें दोबारा स्थापित करने में आसानी हो सके। गाजियाबाद में मेट्रो ओर परिवहन का विस्तार किया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नगर निगम मेयर और पार्षदों के साथ नगर पालिका परिषद और नगर पंचायत चेयरमैन और सभासदों के पक्ष में की गई चुनावी अपील के बाद बेशक प्रत्याशियों के चेहरे खिल गए हों, मगर यह चुनावी रैली कई अनसुलझे सवाल भी छोड़ गई। शहरवासियों के साथ कस्बों की हालत में कब और कैसे सुधार होगा यह सवाल लोगों की जुबां पर है। पंडाल से लेकर सड़कों और वाहनों तक पर भी भगवा रंग और कमल का फूल चारों तरफ नजर आ रहा था। मुख्यमंत्री से पहले केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉक्टर सत्यपाल सिंह, केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री पूर्व जनरल एवं स्थानीय सांसद वीके सिंह, प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री अतुल गर्ग आदि ने मेयर, चेयरमैन व पार्षद और सभासदों को मंच से जिताने की अपील की। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं चंदौली से सांसद डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि स्मार्ट सिटी का सपना गाजियाबाद को जोड़ा है, मेयरों ने कार्य किया। मगर प्रदेश में 15 सालों से गलत सरकारों की वजह से शहरों की उपेक्षा हुई। पूर्व सपा सरकार में नगर विकास मंत्री यानी आजम खां को उल्टी खोपड़ी का कहकर भड़ास निकालते हुए कहा कि निगमों और नगर पालिका व नगर पंचायतों को उगाही के अड्डे बना दिए थे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App