ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश: मुठभेड़ में फुरकान को लगी गोली, गिरफ्तार

पुलिस ने व्यापारियों को आश्वासन दिया था कि 24 घंटे के अंदर उसे गिरफ्तार कर लेगी।

Author मुजफ्फरनगर | April 9, 2017 3:37 AM
सुरक्षा के लिए तैनात मध्य प्रदेश पुलिस के जवान (File Photo)

उत्तर प्रदेश के कैराना कोतवाली क्षेत्र के सर्राफा व्यापारी रामअवतार वर्मा से 10 लाख की रंगदारी मांग कर चर्चा में आए फुरकान को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया।
फुरकान पश्चिम उत्तर प्रदेश में आतंक का पर्याय बने जेल में बंद मुकीम उर्फ काला गैंग का बदमाश है। उसके ऊपर पुलिस ने 50 हजार रुपए का इनाम भी घोषित कर रखा है। शातिर बदमाश फुरकान को पुलिस ने शामली के कैराना-कांधला रोड से गांव आल्दी के निकट मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान फुरकान को 3 गोलियां लगी है जबकि मुठभेड़ में दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। पुलिस ने फुरकान को शामली चिकित्सालय में भर्ती कराया जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। मामला जनपद शामली के कैराना कोतवाली थाना क्षेत्र बाकी का है। यहां मुकीम उर्फ काला गैंग के 50 हजार के इनामी बदमाश फुरकान ने कैराना में सर्राफा व्यापारी रामअवतार वर्मा से 10 लाख रुपए की रंगदारी मांगी थी। उसने रंगदारी नहीं देने पर व्यापारी को हत्या करने की धमकी दी थी। जिसके बाद पीड़ित व्यापारी ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। पर पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर पाई थी। कैराना के नाराज व्यापारियों ने उसकी गिरफ्तारी के विरोध में बाजार बंद कर पुलिस पर दबाव बनाया था। तब पुलिस ने व्यापारियों को आश्वासन दिया था कि 24 घंटे के अंदर उसे गिरफ्तार कर लेगी।

शनिवार की सुबह पुलिस को सूचना मिली थी बदमाश फुरकान कैराना-कांधला रोड पर जा रहा था। इस दौरान पुलिस की एक टीम फुरकान की गिरफ्तारी के लिए घेराबंदी कर ली। घेराबंदी के दौरान पुलिस और फुरकान के बीच मुठभेड़ हो गई जिसमें पुलिस ने फुरकान को गिरफ्तार कर लिया। मुठभेड़ में फुरकान को पैरों में 3 गोलियां लगी हैं।एसपी जयपाल शर्मा का कहना है कि मुठभेड़ के दौरान दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। फुरकान से पूछताछ के लिए शामली चिकित्सालय में एसपी डक्टर अजय पाल शर्मा, एडिशनल एसपी अनिल कुमार झा और सीओ कैराना भूषण वर्मा रहे।

 

पीएम मोदी ने यूपी के सांसदों से कहा- "मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कोई सिफारिश न करें"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App