ताज़ा खबर
 

12 साल पहले लिए गए 700 रुपए का कर्ज नहीं चुकाया तो जिंदा जला दिया

दयाल पढ़ा-लिखा नहीं था जिसके कारण कॉंट्रेक्टर उसका फायदा उठाकर उससे 10 से 30 प्रतिशत का ब्याज ले रहा था और उसपर कर्ज चढ़ाए जा रहा था।

Author फिरोज़ाबाद | February 25, 2017 17:50 pm
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के फिरोज़ाबाद में एक युवक को जिंदा जलाने का मामला सामने आया है। जानकारी मिली है कि एक व्यक्ति पर 700 रुपए का लोन था जिसे वह चुका नहीं पाया तो चूड़ियों के कॉंट्रेक्टर ने उसे जिंदा जला दिया। पीड़ित 70 प्रतिशत जल चुका है और उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। पीड़ित की पहचान 42 वर्षीय प्रभु दयाल के रूप में हुई है। प्रभु दयाल पिछले दस सालों से फिरोज़ाबाद में चूड़ियां बनाने का काम कर रहा है। यह घटना शुक्रवार की है। इस मामले में पुलिस ने चूड़ियों के कॉंट्रेक्टर और अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। फिरोज़ाबाद के लाइन पार पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने जानकारी दी कि इस मामले में संजय नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस अधिकारी को दिए गए पीड़ित प्रभु दयाल के बयान के अनुसार उसने 12 साल पहले चूड़ियों के कॉंट्रेक्टर से एडवांस में काम के लिए 700 रुपए लिए थे जिनमें से 500 रुपए वह कुछ साल पहले वापस कर चुका था। दयाल पढ़ा-लिखा नहीं था जिसके कारण कॉंट्रेक्टर उसका फायदा उठाकर उससे 10 से 30 प्रतिशत का ब्याज ले रहा था और उसपर कर्ज चढ़ाए जा रहा था। वहीं दयाल की मां ने बताया कि 2015 में मेरे बेटे ने कॉंट्रेक्टर को 15,000 रुपए का भुगतान किया था और अब वह 20,000 रुपए मांग रहा था। उन्होंने बताया कि घटना के दिन संजय हमारे घर पर आया और मेरे बेटे को अपने साथ लेकर चला गया। संजय ने मेरे बेट को बहुत मारा और उसे पैसे वापस न देने पर उसे जिंदा जिला दिया।

वहीं जब पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी संजय से इस मामले में पूछताछ की तो उसने कहा कि उसने इस वारदात को अंजाम नहीं दिया है। आरोपी ने कहा कि प्रभु दयाल कई दिनों से काम पर नहीं आ रही था और जब उससे पूछने गया तो तो उसने खुद को आग लगा ली। आरोपी ने कहा कि उसने दयाल को बचाने की कोशिश की जिसमें उसके हाथ भी जल गए। इस मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 326, 504 और 506के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

देखिए वीडियो - उत्तर प्रदेश: सरकारी कर्मचारी को अज्ञात लोगों ने मारी गोली, CCTV में कैद हुई घटना

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App