ताज़ा खबर
 

साध्‍वी प्राची के बोल- धर्म बदल कर हिन्‍दू लड़कों से शादी करें मुस्लिम लड़कियां

साध्वी प्राची ने कहा कि इस्लाम एक 'खतरनाक धर्म' है, ये उनकी जिंदगी भी तबाह कर सकता है। साध्वी प्राची मंगलवार (31 जुलाई) को यूपी के मथुरा में थीं। वह बांके बिहारी के मंदिर में उनके दर्शनों के लिए आईं थीं।

विश्व हिंदू परिषद की फायरब्रांड नेता साध्वी प्राची। Express Photo by Tashi Tobgyal

विश्व हिंदू परिषद की फायरब्रांड नेता साध्वी प्राची एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। साध्वी प्राची ने इस बार मुस्लिम लड़कियों को ‘सलाह’ दी है कि वह इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपनाएं और हिंदू लड़कों से विवाह करें। साध्वी प्राची ने कहा कि इस्लाम एक ‘खतरनाक धर्म’ है, ये उनकी जिंदगी भी तबाह कर सकता है। साध्वी प्राची मंगलवार (31 जुलाई) को यूपी के मथुरा में थीं। वह बांके बिहारी के मंदिर में उनके दर्शनों के लिए आईं थीं।

दर्शन के बाद साध्वी ने कहा, ”धर्म परिवर्तन कर शादी करने से मुस्लिम लड़कियां खुद को तीन तलाक और हलाला जैसी कुरीतियों से बचा सकती हैं। हिंदू धर्म में शामिल होकर महिलाएं खुद को जिंदगी भर की परेशानियों और तलाक धमकियों से बचा सकती हैं।” वहीं निकाह और हलाला की प्रथाओं का समर्थन करने वाले मौलानाओं पर भी साध्वी प्राची के तेवर खासे तल्ख दिखे। उन्होंने कहा, ”तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं को ऐसे मौलानाओं को तमाचे मारने चाहिए जो हलाला करने या फिर धर्म से निकालने की धमकी देते हैं।”

वहीं हाल ही में यूपी के हमीरपुर में महिला विधायक के मंदिर में पूजा करने के बाद उसे गंगाजल से धुलवाने पर भी साध्वी ने अफसोस जताया। उन्होंने कहा,”ये महिला के साथ अन्याय है। क्यों किसी को महिला के मंदिर में प्रवेश पर आपत्ति होनी चाहिए? वह बच्चा पैदा कर सकती है, लेकिन उसे मंदिर में प्रार्थना की अनुमति नहीं है? इतना भेदभाव क्यों किया जाए?”

वहीं अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण पर साध्वी ने कहा, ”यह कोई राजनीतिक विवाद नहीं है, बल्कि करोड़ों लोगों की आस्था से जुड़ा मामला है। 2019 में राम मंदिर बनने जा रहा है और इसे कोई रोक नहीं सकता है। हम सभी को केवल सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है।” वहीं साध्वी प्राची ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर फिर से विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि वह भगवान शिव से प्रार्थना करेंगी कि राहुल गांधी को बहू दिलवा दें, क्योंकि उनके बेतुके फैसलों से कांग्रेस को बहुमत तो मिलेगा नहीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App