ताज़ा खबर
 

होने वाले पति को देख कर दुल्हन ने फेंक दी स्वागत की थाली, अड़ गया दूल्हा लड़की तो हम लेकर जाएंगे

दुल्हन का ऐसा व्यवहार देखने के बाद दूल्हे के परिवार वाले भी नाराज हो गए।

Author फर्रुखाबाद | July 3, 2017 6:20 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

हमारे समाज में लोगों के लिए रंग-रूप अभी भी मायने रखता हैं। अगर किसी का रंग गोरा होता है तो लोग बिना सामने वाले व्यक्ति के गुण देखे उसे अपना लेते हैं और अगर सामना वाला व्यक्ति सांवला होता है तो उसे समाज में कोई नहीं अपनाता। हम कहने को तो 21वीं सदी में हैं लेकिन समाज के ठेकेदार आज भी पुरानी परंपराओं के हिसाब से चलते हैं। आमतौर पर देखा गया है कि जब किसी लड़की को शादी के लिए देखने जाते हैं और उसका रंग सांवला हो तो लड़के वाले रिश्ता करने से इनकार कर देते हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश में इसका बिलकुल विपरीत हुआ है। सूबे के फर्रुखाबाद जिले के जहानगंज के एक गांव में शादी का मंडप सज चुका था।

लड़की वाले बारात के आगमन का इंतजार कर रहे थे। वहीं दूसरी ओर बारात चढ़ रही थी, बाराती नांच गाकर जश्न मना रहे थे लेकिन जैसे ही बारात दुल्हन के द्वार पर पहुंची दूल्हे को देखते ही दुल्हन से शादी से इनकार कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दूल्हे का रंग सांवला था इसलिए दुल्हन ने शादी से इनकार किया। इतना ही नहीं दूल्हे के स्वागत में खड़ी महिलाओं के हाथ से उसने स्वागत करने वाली थाली को फेंक दिया। उसके घर वालों ने उसे मनाने की बहुत कोशिश की लेकिन वह इतनी नाराज हो चुकी थी कि वह किसी की बात सुनने के लिए तैयार ही नहीं थी।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 25799 MRP ₹ 30700 -16%
    ₹3750 Cashback
  • Coolpad Cool C1 C103 64 GB (Gold)
    ₹ 11290 MRP ₹ 15999 -29%
    ₹1129 Cashback

दुल्हन का ऐसा व्यवहार देखने के बाद दूल्हे के परिवार वाले भी नाराज हो गए। वे बार-बार दुल्हन के घर वालों से कह रहे थे कि हमारी बेइज्जती हुई है और अब हम बिना दुल्हन लिए यहां से वापस नहीं जाने वाले। इस मामले को लेकर दोनों पक्षों के बीच काफी बहसबाजी हुई जिसके बाद ग्रामीणों ने आकर बीच-बचाव किया। ग्रामीणों के समझाने के बाद भी जब दुल्हन नहीं मानी तो गांव की एक अन्य लड़की से दुल्हे की शादी कराई गई। इसी बीच इस मामले की सूचना पुलिस को लगी. मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों से इस मामले को यही खत्म करने के लिए लिखित में पत्र लिया और मामले को शांत कराया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार दुल्हन के पक्ष के लोगों को दूल्हे के परिवार वालों ने न तो उससे मिलवाया था और न ही उसकी फोटो दिखाई थी। लड़का अच्छा कमाता था इसलिए उन्होंने अपनी बेटी की शादी उससे तय कर दी थी।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App