ताज़ा खबर
 

यूपी: बजरंग दल नेता की सरेआम प‍िटाई, सामने आया VIDEO

कर्मचारी गोविंद पराशर को भगाते भगाते एमजी रोड पर ले आए। कर्मचारियों ने बताया कि, 'बीते करीब 55 दिन में यह नौवां मौका है जब बजरंग दल के नेताओं ने यहां बदसलूकी की है'।

कर्मचारियों ने पुलिस से गोविन्द को छुड़ाकर पिटाई की। (फोटो सोर्स : YouTube Video Screenshot)

उत्तर प्रदेश के आगरा में हिंदूवादी संगठन बजरंग दल के एक नेता की पिटाई का मामला सामने आया है। बजरंग दल के नेता की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिपर खूब वायरल हो रहा है। नेता की पिटाई नगर निगम कर्मचारियों द्वारा की गई है। पिटाई के दौरान पुलिस भी मौजूद थी। लेकिन पीटे जा रहे नेता को बचाने का प्रयास नहीं किया गया। बाद में पुलिस ने पिटाई से चोटिल नेता को किसी तरह कर्मचारियों से छुड़ाकर अस्पताल भेजा।

मामला ताजनगरी आगरा का है। यहां हिन्दूवादी संगठन बजरंग दल के नेता गोविन्द पाराशर गुरुवार (10 जनवरी) को कुछ महिलाओं के साथ नगर निगम कार्यालय पहुंचे थे। गोविंद यहां अधिकारियों को ताजगंज क्षेत्र में अतिक्रमण को लेकर ज्ञापन देने आए थे। इस दौरान गोविन्द पराशर जल्द कार्रवाई के लिए सहायक नगर आयुक्त अनिल कुमार के कार्यालय में पहुंच दबाव बनाने लगे। यहीं पर सहायक नगर आयुक्त अनिल कुमार से गोविन्द पाराशर की तीखी बहस हो गई।

अधिकारी से नेता की बहस ज्यादा होता देख नगर निगम कर्मचारियों ने पुलिस को मामले की सूचना दी गई। मौके पर पहुंची मामले को शांत कराकर गोविन्द को ले जा रही थी। बताया जा रहा है कि तभी अचानक नगर निगम कर्मचारियोंं ने पुलिस से गोविन्द पाराशर को छुड़ा लिया और लात घूंसे बरसाने शुरू कर दिए। गोविंद बचाव के लिए इधर उधर भाग रहे थे लेकिन कर्मचारी बार बार उसे पकड़ ले रहे थे। कर्मचारी गोविंद पराशर को मारते भगाते एमजी रोड पर ले गए। काफी दूर निकल आने के बाद भी कर्मचारियों का गुस्सा शांत नहीं हुआ। यहां भी गोविंद की सड़क पर गिराकर पिटाई की गई।

बजरंग दल के नेता की नगर निगम कर्मचारियों द्वारा पिटाई से एमजी रोड़ पर जाम लग गया। काफी देर बाद पुलिस ने गोविन्द को कर्मचारियों से छुड़ाकर थाने ले गई और उसे मेडिकल कराया गया। वहीं कर्मचारियों ने बताया कि, ‘बीते करीब 55 दिन में यह नौवां मौका है जब बजरंग दल के नेताओं ने यहां बदसलूकी की है’।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App