ताज़ा खबर
 

कसम खाई थी, दलित ने विधायक के हाथों ही पिया अपने हैंडपंप का पानी

पेयजल की समस्या से जूझ रहे एक दलित परिवार के लिए विधायक ने सिर्फ 24 घंटे में हैंडपंप लगवा दिया। पानी की समस्या दूर होने के बाद भी जब परेशान परिवार ने पानी नहीं पिया। तो हैंडपाइप चलाकर पहले विधायक ने खुद पानी निकालकर पिया और उसके बाद परिवार के मुखिया को भी पिलाया।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (Reuters)

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से सटे भदोही से सुकून देने वाली खबर है। पेयजल की समस्या से जूझ रहे एक दलित परिवार के लिए विधायक ने सिर्फ 24 घंटे में हैंडपंप लगवा दिया। पानी की समस्या दूर होने के बाद भी जब परेशान परिवार ने पानी नहीं पिया। तो हैंडपाइप चलाकर पहले विधायक ने खुद पानी निकालकर पिया और उसके बाद परिवार के मुखिया को भी पिलाया।

सूचना के मुताबिक, भदोही जिले के सागरपुर बवई गांव में दलित लालमणि अपने परिवार समेत रहते हैं। लालमणि के परिवार के पास हैंडपंप लगवाने के पैसे नहीं थे। पानी भी दूर से लाना पड़ता था। जब इसकी जानकारी विधायक विजय मिश्रा को हुई तो विधायक ने लालमणि के घर पर महज 24 घंटे में हैंडपंप लगवा दिया। हैंडपंप लगने के बाद भी लालमणि ने हैंडपंप का पानी नहीं पिया। उनका संकल्प था कि जब तक विधायक खुद हैंडपंप चलाकर पानी नहीं पिएंगे, उनका परिवार पानी नहीं पिएगा।

लालमणि की प्रतिज्ञा की खबर जैसे ही विधायक विजय मिश्रा को हुई। वह लालमणि के घर पहुंचे और हैंडपंप चलाकर उसका उदघाटन कर दिया। विधायक विजय मिश्रा ने पहले खुद लोटा भरकर पानी पिया और उसके बाद लालमणि को भी पिलाया। कार्यक्रम के बाद ज्ञानपुर क्षेत्र से विधायक विजय मिश्रा ने मीडिया को बताया कि लालमणि और उनका परिवार लंबे समय से पानी की मुसीबत झेल रहा था। वह हमारे क्षेत्र के सम्मानित नागरिक हैंं। अब उन्हें ताजे पानी के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा।

विधायक ने बताया कि अपनी विधायक निधि से उन्होंने पूरे ज्ञानपुर क्षेत्र में 25,000 से ज्यादा हैंडपाइप लगवाए हैं। विधायक ने अपनी निधि से दलित समुदाय के इलाकों में सोलर लाइट सिस्टम लगवाने और सड़क मार्ग सुधारने की कोशिश भी की है। फिलहाल, इस वाकये की चर्चा पूरे इलाके में हो रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App