ताज़ा खबर
 

विधायक नंबर 404: बिना चुनाव लड़े ही उत्तर प्रदेश विधानसभा में तीन बार से विधायक हैं पीटर फैंथोम

उत्तर प्रदेश की 404 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव आयोग राजनीतिक पार्टियों को 403 सीट पर चुनाव लड़वाता है। बाकी बची हुइ एक सीट पर चुनाव नहीं लड़ा जाता।

उत्तर प्रदेश विधानसभा में 403 नहीं 404 सीटें होती हैं।

हाल ही में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव समाप्त हुए हैं। 403 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव में 325 सीटें जीतकर भाजपा गठबंधन ने सरकार बनाई है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि उत्तर प्रदेश की विधानसभा में 403 नहीं 404 विधानसभा की सीटें हैं? जी हां अगर आप नहीं जानते तो जान लीजिए कि यूपी में 404 विधायक हैं। अब सवाल उठता है कि आखिर कौन है ये विधायक नंबर 404? विधायक नंबर 404 किस विधानसभा का नेतृत्व करता है? आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश की 404 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव आयोग राजनीतिक पार्टियों को 403 सीट पर चुनाव लड़वाता है। बाकी बची हुइ एक सीट पर चुनाव नहीं लड़ा जाता। इस सीट का विधायक आम जनता नहीं बल्कि प्रदेश का राज्यपाल चुनता है। दरअसल ये सीट एंग्लो इंडियन के लिए रिजर्व रहती है।

कौन होते हैं एंग्लो इंडियन:
एंग्लो इंडियन ऐसे अंग्रेज हैं जो भारत में बस गए हैं। अंग्रेज पिता और भारतीय मां से उत्पन्न संतान को एंग्लो इंडियन कहा गया। एंग्लो इंडियन को लेकर कहा ये भी जाता है कि यह लोग यूरोपीय मूल के थे पर इनका जन्म भारत में हुआ और वे यहीं पले बढ़े। इन लोगों के पास देश के नागरिकों के सारे हक भी हासिल हैं। 1947 में बारत को अंग्रेजों से आजादी मिलने के बाद जब देश का संविधान बन रहा था तब एंग्लो इंडियन सोसायटी के चर्चित नेता फ्रैंक एंथोनी तत्कालीन प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू से मिलने पहुंचे। एंथोनी ने पंडित नेहरू से कहा कि उनकी सोसायटी के ज्यादातर लोग भारत छोड़कर जा चुके हैं। अपनी इस दलील के साथ उन्होंने प्रधानमंत्री से गुजारिश की कि उनके समुदाय के लोगों के लिए संसद और विधानसभा में कुछ सीटें रिजर्व कर दी जाएं।

प्रधानमंत्री को तब बताया गया कि देश में एंग्लो इंडियन नागरिकों की संख्या लगभग 5 लाख है जो देश के विभिन्न राज्यों में बंटे हुए हैं।अपनी इतनी छोटी सी आबादी के साथ उन लोगों का चुनाव जीतना लगभग मुश्किल था। इस बात को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नेहरू ने संविधान के अनुच्छेद 333 के तहत संसद में दो और राज्य विधानसभाओं में एक एंग्लो इंडियन सदस्य को मनोनीत करने का प्रावधान कर दिया।

यूपी का विधायक नंबर 404:
मौजूदा वक्त में यूपी की विधानसभा में पीटर फैंथम नाम के एक एंग्लो इंडियन 404 नंबर के विधायक हैं। ये नाम शायद ही आपने यूपी की राजनीति में कभी सुना हो लेकिन ये ऐसे विधायक हैं जो पिछले तीन बार से बिना चुनाव लड़े विधायक बन रहे हैं। 2002 से लगातार विधायक रहे एंग्लो इंडियन पीटर फैंथम का जन्म उत्तर प्रदेश के ही फतेहगढ़ में हुआ। पीटर फैंथम पेशे से अध्यापक हैं। प्रदेश में बीजेपी की योगी सरकार बनने के बाद इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार किसी और को इनकी जगह विधानसभा में पहुंचाया जा सकता है। सबसे ज्यादा गौर करने वाली बात ये है कि विधायक नंबर 404 का अपना कोई विधानसभा क्षेत्र नहीं होता है। ये सदन में पूरे प्रदेश का नेतृत्व करते हैं।

VIDEO: विधानसभा चुनाव नतीजे 2017: उत्तर प्रदेश में बीजेपी की बड़ी जीत पर पार्टी समर्थकों ने मनाया जश्न

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App