ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश: उर्दू में शपथ लेने पर जोर दे रहा था बीएसपी पार्षद, केस दर्ज

अलीगढ़ म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के बीएसपी पार्षद मुशर्रफ हुसैन के ऊपर आरोप है कि उन्होंने उर्दू में शपथ लेने पर जोर देते हुए धार्मिक भावनाओं को आहत करने की कोशिश की है।

उर्दू में शपथ लेने पर जोर दे रहा था बीएसपी पार्षद (प्रतीकात्मक तस्वीर)

उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के एक पार्षद के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप में केस दर्ज किया गया है। अलीगढ़ म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के बीएसपी पार्षद मुशर्रफ हुसैन के ऊपर आरोप है कि उन्होंने उर्दू में शपथ लेने पर जोर देते हुए धार्मिक भावनाओं को आहत करने की कोशिश की है। यूपी पुलिस ने आईपीसी की धारा 295-ए (जानबूझकर धर्म या धार्मिक विश्वासों का अपमान करके किसी वर्ग विशेष की भावनाओं अपमानित करना) के तहत बुधवार की रात हुसैन के खिलाफ केस दर्ज किया है। बन्नादेवी पुलिस स्टेशन के इनचार्ज जितेंद्र दीक्षित का कहना है कि इस मामले में बीजेपी पार्षद पुष्पेंद्र सिंह की शिकायत के आधार पर केस दर्ज किया गया है।

पुलिस ने बताया कि सिंह ने अपनी शिकायत में बीएसपी पार्षद पर आरोप लगाया है कि उन्होंने सोमवार को शपथ-ग्रहण के दिन धार्मिक भावनाओं को आहत करने की और सांप्रदायिक सौहार्द को उत्तेजित करने की कोशिश की थी। हालांकि पुलिस ने अभी तक हुसैन के शिकायत के आधार पर केस दर्ज नहीं किया है। मुशर्रफ हुसैन ने आरोप लगाया है कि शपथ-ग्रहण के दिन उनकी पिटाई की गई थी। पुलिस फिलहाल हुसैन की शिकायत की जांच कर रही है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक सोमवार को अलीगढ़ म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के नवनिर्वाचित सदस्यों का शपथ-ग्रहण समारोह था, जिस दौरान बीएसपी पार्षद ने उर्दू में शपथ लेने पर जोर दिया था, जिसके बाद बीजेपी पार्षदों ने इस बात का विरोध किया और हंगामा कर दिया। अलीगढ़ में बीएसपी के मेयर बने हैं, नए मेयर मोहम्मद फुरकान ने इस मामले में बीजेपी से शांतिपूर्ण तरीके से हार स्वीकार करने की अपील की है। साथ ही उन्होंने कहा है कि सभी लोगों को साथ मिलकर जिले के विकास के लिए काम करना है। बता दें कि बीजेपी और बीएसपी के बीच चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही तनाव का माहौल है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App