ताज़ा खबर
 

महिला आईपीएस को सरेआम डांटने वाले बीजेपी एमएलए ने कहा- वो छोटी अफसर है उसे बीच में बोलने की क्या जरूरत थी

वायरल हो रहे वीडियो में भाजपा विधायक डॉक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल महिला आईपीएस चारु निगम से बदसलूकी करते हुए नजर आ रहे हैं।

Author Published on: May 8, 2017 9:21 PM
भाजपा विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल (फोटो सोर्स इंडियन एक्सप्रेस)

इन दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के लोकसभा क्षेत्र में पुलिस अधिकारी से बदसलूकी का वीडियो सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर वायरल हो रहा है। वायरल हो रहे वीडियो में भाजपा विधायक डॉक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल महिला आईपीएस चारु निगम से बदसलूकी करते हुए नजर आ रहे हैं। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि विधायक राधा मोहन महिला अधिकारी से बहुत ऊंची आवाज में बात कर रहे हैं। इस दौरान आईपीएस चारु लोगों के सामने ही भावुक होकर रोने लग गईं। वीडियो सामने आने के बाद विधायक राधा मोहन का विरोध किया जा रहा है और उनसे माफी मांगने की बात कही जा रही है। खबर के अनुसार विधायक ने माफी मांगने से इंकार दिया है। वहीं, टीवी चैनल इंडिया टुडे में एक प्रोग्राम के दौरान विधायक ने यहां तक कह डाला कि वो छोटी अफसर थी उसे बीच में बोलने की क्या जरूरत थी। उन्होंने कहा कि मैंने आईपीएस से चुप रहने के लिए कहा, इसमें मैंने क्या गलत कह दिया।

असल में क्षेत्र में देशी और अंग्रेजी शराब की दुकान बंद कराने की मांग को लेकर लोग अचानक आक्रोशित हो गए। इस दौरान क्षेत्र में लगे जाम को खत्म कराने आई पुलिस पर भी नाराज लोगों ने पथराव कर दिया। इस दौरान सीओ गोरखनाथ (आईपीएस) चारु निगम जख्मी हो गईं। मौके पर पहुंचे विधायक राधा मोहन मामले में बड़े अधिकारियों से बात करने लगे। मगर जैसे ही आईपीएस अधिकारी चारु निगम ने बीच में बोलना चाहा तब विधायक ने उन्हें बुरी तरह डांटना शुरू कर दिया और कहा, तुम मुझे मत बताओ…मैं तुमसे बात नहीं कर रहा हूं…चुप रहो तुम। विधायक के इस बर्ताव से आईपीएस बहुत आहत हुईं और मौके पर ही उनकी आंखों से आंसू टपकने लगे।

बता दें कि जाम कर रहो लोगों की शिकायत मिलने पर विधायक अग्रवाल घटना स्थल पर पहुंचे थे। इस दौरान क्षेत्रीय लोगों ने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाए और आम लोगों की पिटाई करने का आरोप लगाया। इस दौरान विधायक ने पुलिस को भी जमकर फटकार लगाई और बूढ़ी, गर्भवती महिलाओं पर लाठीचार्ज पर पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाए। बता दें कि मामला रविवार (7 मई, 2017) का है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अयोध्‍या: 5 साधुओं ने साल भर तक मंदिर में किया महिला का बलात्‍कार, बेटी को भी बनाया शिकार