scorecardresearch

पीपल के नीचे पत्थर-लाल झंडा रखने से बन जाता है मंदिर- अखिलेश का बयान, BJP नेता का पलटवार- ये हिंदू आस्था का मखौल

Gyanvapi Case: अखिलेश यादव के बयान पर भाजपा नेता शहजाद पूनावाला ने हमला बोलते हुए कहा कि “वे केवल एक विशेष धर्म के लोगों की खुश करने के लिए ऐसे बयान दे रहे हैं।”

Gyanvapi Mosque| Varanasi | Akhilesh Yadav
ज्ञानवापी मस्जिद परिसर (फोटो : पीटीआई)

ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में सर्वेक्षण पर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की ओर से बयान दिया था, जिस पर भाजपा नेता शहजाद पूनावाला ने कड़ी आपत्ति जताई है। उन्होंने अखिलेश यादव की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि वे ऐसा बयान देकर हिन्दुओं की आस्था का मजाक बना रहे हैं।

इस पर पूनावाला ने एक वीडियो जारी किया और कहा कि अखिलेश यादव जो दावा करते हैं कि भगवान श्री कृष्ण उनके सपने में आते हैं अब हिन्दुओं की आस्था का भी मजाक बना रहे हैं। उन्होंने (अखिलेश यादव) कहा कि हिंदू धर्म में कहीं भी पीपल के पेड़ के नीचे अगर पत्थर रख दो, लाला झंडा लगा दो वह मंदिर बन जाता है।”

पूनावाला ने आगे कहा कि “ये वहीं अखिलेश यादव ने जिन्होंने चुनावों के दौरान साधुओं की चिलमजीवी कहकर उनका मजाक उड़ाया था। यह उस समाजवादी पार्टी आते हैं जो 1991 में निर्दोष रामभक्तों पर गोली चलाकर गर्व महसूस करते हैं। इनकी पार्टी ने कांग्रेस के साथ मिलकर कहा था कि श्री राम काल्पनिक है और इन्हीं लोगों ने पिछले 70 सालों तक राम मंदिर का विरोध किया था।”

आगे उन्होंने कहा कि “अखिलेश यादव को पता होना चाहिए कि जब भी किसी मंदिर में मूर्ति की स्थापना की जाती है तो प्राण प्रतिष्ठा की पूरी प्रक्रिया होती है। ये लोग केवल हिन्दू धर्म का मखौल उड़ा कर एक विशेष वर्ग के लोगों को खुश करना चाहते हैं।”

बता दें, बीते बुधवार को सपा नेता अखिलेश यादव ने ज्ञानवापी परिसर में हिन्दू पक्ष के शिवलिंग मिलने के दावे पर कहा था कि हमारे हिन्दू धर्म में यह है कि “पीपल के पेड़ के नीचे कहीं पर भी मूर्ति रख दो, लाल झंडा रख दो वह मंदिर बन जाता है।” इसके साथ उन्होंने कहा था कि “भाजपा असल मुद्दों से भटकाने के लिए जानबुझकर ज्ञानवापी मस्जिद जैसे मुद्दे को उठा रही है,जिससे आप हम असली मुद्दों से भटक जाएं। ज्ञानवापी के जरिए सरकार बड़ी-बड़ी साजिशों को छुपाने की कोशिश कर रही है।”

राम मन्दिर का जिक्र करते हुए कहा था कि “भाजपा कुछ भी करा सकती है या करवा सकती है। रात के अंधेरे में अयोध्या में मूर्तियां रखवा दी गई थीं।”

पढें उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट