ताज़ा खबर
 

टोल प्लाजा कर्मचारी को थप्पड़ मारते हुए कैमरे में कैद हुए बीजेपी विधायक

राकेश राठोड़ का कहना है कि मैंने कर्मचारी को थप्पड़ नहीं मारा केवल धक्का दिया था।
यह घटना सीसीटीवी में कैद हुई, जिसके बाद इसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया। (Photo source: ANI Video)

उत्तर प्रदेश में एक बीजेपी विधायक द्वारा टोल बूथ पर गुंडागर्दी करने का मामला सामने आया है। यह मामला फतेहगंज टोल प्लाजा का है जहां पर बीजेपी विधायक राकेश राठौड़ ने एक टोल प्लाजा कर्मचारी के साथ बदसलूकी करते हुए उसे थप्पड़ जड़ दिया। राकेश राठौड़ सितापुर से विधायक है। यह घटना सीसीटीवी में कैद हुई, जिसके बाद इसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार राकेश राठौड़ अपने समर्थकों के साथ टोल प्लाजा की तरफ से गुजर रहे थे कि तभी टोल कर्मचीरी ने उन्हें टोल देने के लिए रोका। राकेश के समर्थक टोल देने से मना करते रहे लेकिन  बिना पैसे दिए कर्मचारी उन्हें निकलने नहीं दे रहा था।

इससे विधायक का गुस्सा इतना भड़क गया कि उसने टोल कर्मचारी को थप्पड़ मार दिया और वहां से बिना टोल दिए ही निकल गए। इस मामले की अभी तक कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। वहीं इस मामले पर राकेश राठौड़ का कहना है कि मैंने कर्मचारी को थप्पड़ नहीं मारा केवल धक्का दिया था। उन्होंने कहा कि मैंने कर्मचारी को धक्का इसलिए दिया क्योंकि उसने मेरे साथ बदतमीजी की थी।

वैसे तो मुख्यमंत्री बनते ही योगी आदित्य नाथ सरकारी कर्मचारियों को अनुशासन के साथ काम करने के लिए कह रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ सरकार से जुड़े लोग अनुशासन भूल गए हैं। सत्ता में आते ही बीजेपी विधायकों और कार्यकर्ताओं की इस प्रकार की गुंड़ागर्दी दूसरी पार्टियों को योगी सरकार पर निशाना साधने का मौका दे रही है। बीजेपी विधायक द्वारा की यह गुंड़ागर्दी उस समय सामने आई है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश में वीवीआईपी कल्चर को खत्म करने की बात कही गई।

इससे पहले भी बीजेपी विधायक सुरेश गौड़ा द्वारा टोल प्लाजा कर्मचारी को थप्पड़ मारने का मामला सामने आया था। ऐसा ही एक मामला राजस्थान में देखने को मिला था। जहां पर बीजेपी विधायक श्रीराम भिंचर के किसी रिश्तेदार की बारात मकराना से नागौर की तरफ जा रही थी। इसी रास्ते में जयपुर नागौर हाईवे पर स्थित आसेरी टोल प्लाजा पर विधायक ने खुद डंडा लेकर टोल पर खड़े होकर सभी गाड़ियों को बिना टोल दिए निकालने का इशारा किया। विधायक के काफिले में लगभग 50 गाड़ियां थी जो बिना टोल चुकाए ही निकल गईं। वहीं जब टोल कर्मियों ने विधायक से टोल चुकाने की बात कही तो विधायक ने झगड़ा और मारपीट करने तक की धमकी दे दी।

देखिए वीडियो - योगी के मंत्री सत्यदेव पचौरी ने दिव्यांग सफाई कर्मचारी से किया दुर्व्यवहार; कहा- "लूले लंगड़ों को काम पर रखा है"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.