ताज़ा खबर
 

तीन तलाक: निदा खान और केंद्रीय मंत्री की बहन के खिलाफ फतवा, सिर मुंडने और पत्थर मारने की धमकी

निदा ने कहा, "मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से मिलने के लिए अप्वाइंटमेंट लूंगी और उनसे इस बारे में अपील करूंगी, वे आज शाहजहांपुर में थे लेकिन मैंने आज तय किया कि खुद की सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए मैं उनसे मिलने नहीं जाउंगी।"

तीन तलाक के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाली निदा खान।

तीन तलाक के खिलाफ मोर्चा खोलने वाली निदा खान और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फरहत नकवी के खिलाफ बरेली के एक इस्लामिक एनजीओ ने फतवा जारी किया है। विवादास्पद फतवे देने के लिए चर्चा में रहने वाले ऑल इंडिया फैजान-ए-मदीना काउंसिल के प्रमुख मोइन सिद्दीकी नूरी ने कहा है कि जो कोई इन महिलाओं का सिर मुंडन करेगा या फिर इन्हें पत्थरों से मारेगा उन्हें इनाम दिया जाएगा। हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक मोइन सिद्दीकी ने कहा, “जो कोई भी निदा खान और फरहत नकवी का सिर मुंडन करेगा और भारत से भगा देगा उन्हें हमारा संगठन 11 हजार 786 रुपये का पुरस्कार देगा।” बता दें कि इन दोनों महिलाओं ने एक साथ तीन तलाक और हलाला जैसी इस्लामी प्रथाओं के खिलाफ मुहिम छेड़ रखी है।

फतवे के बाद निदा खान ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा, “हमारे खिलाफ फतवा जारी किया गया है और कहा गया है कि जो कोई भी निदा खान के बाल काट कर लाएगा उसे 11786 रुपये का इनाम दिया जाएगा, और यदि मैं तीन दिनों के अंदर इस देश को नहीं छोड़ती हूं तो मुझ पर पत्थरों से हमला किया जाएगा।” निदा ने कहा है कि ऐसे फतवे जारी करने वालों को रोका जाना चाहिए। उन्होंने अपनी जान को खतरा बताया है। निदा ने कहा, “मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से मिलने के लिए अप्वाइंटमेंट लूंगी और उनसे इस बारे में अपील करूंगी, वे आज शाहजहांपुर में थे लेकिन मैंने आज तय किया कि खुद की सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए मैं उनसे मिलने नहीं जाउंगी।”

ऐसा नहीं है कि ऑल इंडिया फैजान-ए-मदीना ने पहली बार ऐसा फतवा नहीं जारी किया है। इससे पहले इस संगठन ने कनाडाई इस्लामिक विद्वान तारेक फतह का भी सिर काटने की धमकी दी थी। संगठन पर शिया वक्फ बोर्ड के चैयरमैन वसीम रिजवी पर भी धमकी देने का आरोप है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App