ताज़ा खबर
 

यूपी: बजरंग दल का आरोप- शादीशुदा हिंदू महिला को मुस्लिम ने किया अगवा, पुलिस बोली- मर्जी से गए

हिंदुत्ववादी संगठनों का आरोप है कि शहजाद ने 8 अप्रैल को 23 साल की महिला को उस वक्त अगवा कर लिया, जब वह शादी के छह दिन बाद अपने पति के साथ रिश्तेदारों के घर जा रही थी।

Author May 22, 2018 10:36 AM
संगठन ने धमकी दी है कि अगर पुलिस दोनों का पता लगाने में नाकाम रहती है तो वह प्रदर्शन करेगा। वहीं, पुलिस ने संभावना जताई है कि दोनों मर्जी से साथ गए हैं।

AMIT SHARMA

यूपी के शहर मेरठ में बजरंग दल का आरोप है कि एक 25 साल के मुस्लिम युवक ने शादीशुदा हिंदू लड़की को अगवा कर लिया है। संगठन ने धमकी दी है कि अगर पुलिस दोनों का पता लगाने में नाकाम रहती है तो वह प्रदर्शन करेगा। वहीं, पुलिस ने संभावना जताई है कि दोनों मर्जी से साथ गए हैं। हिंदुत्ववादी संगठनों का आरोप है कि शहजाद ने 8 अप्रैल को 23 साल की महिला को उस वक्त अगवा कर लिया, जब वह शादी के छह दिन बाद अपने पति के साथ रिश्तेदारों के घर जा रही थी। मेरठ एसएसपी राजेश कुमार पांडे ने अपने सूत्रों के हवाले से कहा है कि दोनों 5 मई को इलाहाबाद हाई कोर्ट गए थे और पुलिस से सुरक्षा की मांग की थी। उन्होंने कहा, ‘लेकिन हमारे पास कोर्ट के आदेश की कोई कॉपी नहीं है। मुमकिन है कि वह उसके (शहजाद) साथ मर्जी से गई है। ऐसा लगता है कि लड़की के घरवालों ने उसकी जबरन शादी करवाई है।’

वहीं, लड़की के भाई का कहना है कि वे हाई कोर्ट गए हैं और उन्हें एक महीने बाद का वक्त मिला है। उन्होंने कहा, ‘हम अपनी बहन को वापस पाने के लिए अपना मामला हाई कोर्ट के सामने रखेंगे।’ भाई का दावा है कि बहन के पास कोई फोन नहीं है, जिस वजह से वे उसके संपर्क में नहीं हैं। उधर, पुलिस की ओर से गठित चार टीमें दोनों का पता लगाने में नाकाम रही है। बजरंग दल का कहना है कि यह ‘लव जिहाद’ का मामला है। अधिकारियों ने सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक को लिखकर शहजाद की लोकेशन से जुड़ी डिटेल्स मांगी है। दरअसल, शहजाद फेसबुक पर तस्वीरें और स्टेटस अपडेट करता रहा है।

शहजाद ने सोमवार को एक तस्वीर अपलोड की। इसमें लड़की एक भगवा रंग का दुपट्टा पहने खड़ी है जबकि बैकग्राउंड में अमृतसर का स्वर्ण मंदिर नजर आ रहा है। इस मामले पर बजरंग दल के नेता बलराज डूंगर ने कहा, ‘पार्टी के लाखों कार्यकर्ता भगवा लिबास की हिफाजत के लिए तैयार हैं। हम हिंदू प्रतिष्ठा के लिए लड़ने को तैयार हैं। हम फेसबुक पर अपनी भावनाओं को आहत करने के लिए जानबूझकर की जा रही कोशिशों को नजरअंदाज नहीं करेंगे। अगर पुलिस जल्द ही दोनों का पता नहीं लगा पाई तो हम प्रदर्शन करने के लिए मजबूर हो जाएंगे।’

बता दें कि इस कथित अपहरण के मामले में अभी तक छह लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पुलिस ने दोनों का पता बताने वाले को 25 हजार रुपये का इनाम देने का ऐलान किया है। बता दें कि लड़की के भाई को गोली मारी गई थी, जब वह एसएसपी से मिलकर वापस लौट रहा था। पुलिस ने कहा कि इस हमले में शहजाद मुख्य आरोपी है और जल्द ही उसका पता लगा लिया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App