Azam Khan satires over RSS Chief Mohan Bhagwat on his Military Remark, Says- Now Its is good to have two Armies, but do they have weapons as enemies have? - मोहन भागवत पर आजम खान का तंज- अच्छा है भारत के पास अब डबल आर्मी, दुश्मन वाले हथियार हैं या नहीं? - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मोहन भागवत पर आजम खान का तंज- अच्छा है भारत के पास अब डबल आर्मी, दुश्मन वाले हथियार हैं या नहीं?

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के सेना को लेकर दिए गए बयान पर तंज कसा है। आजम ने कहा है कि अब अच्छा है कि देश के पास डबल आर्मी हो गई।

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत के सेना को लेकर दिए गए बयान पर तंज कसा है। आजम खान ने सोमवार (12 फरवरी) को कहा कि अब अच्छा है कि देश के पास डबल आर्मी हो गई। आजम खान के बयान वाला वीडियो ईटीवी भारत यूपी नाम के यूट्यूब पेज पर शेयर किया गया है। करीब एक मिनट के वीडियो में आजम खान कहते दिख रहे हैं- ”मोहन भागवत का स्वागत करेंगे। बहुत अच्छी बात है। डबल आर्मी हो गई देश के पास। इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है। अब जो चीन ने जमीन हथिया रखी है, ये डबल आर्मी से चीन और पाकिस्तान दोनों से निपटने में बड़ी सहूलियत हो जाएगी। बस इतना और बता देते भागवत जी कि जो तीन दिन में वो आर्मी अपनी तैयार कर सकते हैं, उसके पास वो हथियार हैं जो दुश्मनों के पास हैं, तो लड़ाई बढ़िया होगी। अब देश में भी डर पैदा होगा देशवासियों में कि एक प्राइवेट आर्मी भी देश में हो गई है। हम स्वागत करते हैं उसका।”

संविधान इजाजत देने के सवाल पर आजम बोले- ”जिसकी सरकार उसका संविधान। सरकार के कंट्रोल में आर्मी होती है, अब डबल आर्मी हो गई सरकार के पास। इसमें बुरा मानने की क्या बात है। क्यों बुरा मान रहे हो? स्वागत होना चाहिए, वेलकम होना चाहिए।”

बता दें कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार (11 फरवरी) को बिहार के मुज्फ्फरपुर में कहा था- ”हमारा मिलिट्री संगठन नहीं है। मिलिट्री जैसी डिसीप्लिन हमारी है, और अगर देश को जरूरत पड़े और देश का संविधान-कानून कहे, तो सेना तैयार करने को छह-सात महीना लग जाएगा, संघ के स्वयं सेवकों को बोलेंगे, तीन दिन में तैयार होगा। ये हमारी क्षमता है, लेकिन हम मिलिट्री संगठन नहीं हैं, पैरा मिलिट्री भी नहीं हैं, हम तो पारिवारिक संगठन हैं।” मोहन भागवत के इस बयान पर मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर उनकी कड़ी निंदा की थी। उनके अलावा भी मोहन भागवत अपने इस बयान को लेकर आलोचकों के निशाने पर आ गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App