ताज़ा खबर
 

यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ के खिलाफ महिला ने दर्ज कराया सोशल मीडिया में न्यूड फोटो डालने का केस

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने 13 जून को अपने सोशल मीडिया पेज पर न्यूड फोटो को पोस्ट किया था।

उत्तर प्रदेश के मुख्मयंत्री योगी आदित्यनाथ

यूपी के सीएम के खिलाफ एक आदिवासी महिला ने केस दर्ज कराया है। असम की इस महिला ने यूपी के सीएम पर आरोप लगाया है कि सीएम ने उसकी एक न्यूड फोटो को सोशल मीडिया में शेयर किया है। इसके लिए महिला ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। लक्ष्मी ओरंग नाम की इस आदिवासी महिला ने आईपीसी और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत सब डिवीजिनल न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में शिकायत दायर की। महिला के मुताबिक, 24 नवंबर 2007 को गुवाहाटी के बेलटोला में अखिल असम आदिसवासी छात्र संघ के आंदोलन के दौरान ली गई उसकी न्यूड फोटो को योगी आदित्यनाथ ने 13 जून को अपने सोशल मीडिया पेज पर पोस्ट किया था। इसके अलावा महिला ने सांसद राम प्रसाद सरमा के खिलाफ इस फोटो शेयर को करने को लेकर केस दर्ज कराया।

इससे पहले भी यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ कई केस दर्ज हुए हैं। उन पर धर्म, जाति, जन्म स्थान, निवास, भाषा आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच सद्भाव बिगाड़ने के मामले में आईपीसी की धारा 153ए के तहत दो मामले दर्ज किए गए थे। आईपीसी की धारा 295 के तहत भी दो मामले दर्ज हैं। इसके साथ ही सीएम योगी के खिलाफ आईपीसी की धारा 506, धारा 307, धारा 147, धारा 336, धारा 149, धारा 504 के तहत भी कई केस दर्ज हैं। सभी मामले लोकसभा चुनाव 2014 में दिए गए उनके हलफनामें में दर्ज हैं। हालांकि कितने मामले इनमें से खत्म हुए या बंद हुए। यह जानकारी अभी उपलब्ध नहीं हो पाई है।

आपको बता दें कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दिए गए रात्रिभोज में सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती समेत कई प्रमुख लोगों को आमंत्रित किया गया था लेकिन, मायावती और अखिलेश नहीं पहुंचे। दरअसल, इस भोज के जरिए उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति चुनाव के समीकरण की संभावनाएं तलाशी जानी थी लेकिन, नेताओं के न पहुंचने से विपक्ष की दूरियां साफ उजागर हो गईं। मोदी रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पांच कालिदास मार्ग पर आयोजित भोज में करीब साढ़े आठ बजे पहुंचे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App