ताज़ा खबर
 

यूपी चुनाव को देखते हुए अखिलेश यादव की ‘तेजी’, 6 घंटे में किया 5500 प्रोजेक्ट्स का शीलान्यास

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार (20 दिसंबर) को कुल छह घंटे में 5,500 प्रोजेक्ट्स का शीलान्यास कर दिया।

Author Published on: December 21, 2016 8:44 AM
उत्तर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार (20 दिसंबर) को कुल छह घंटे में 5,500 प्रोजेक्ट्स का शीलान्यास कर दिया। जो कि राज्य की 13 अलग-अलग जगहों पर हुआ। उन्होंने दिन की शुरुआत फैजाबाद जिले से की। वहां उन्होंने राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल और एक प्राथमिक हेल्थ सेंटर को शुरू किया। उसके बाद उन्होंने मंडी परिषद में 3,180 प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन किया जो लगभग 1,932 करोड़ रुपए के हैं। साथ ही 1,103 करोड़ के 2,022 प्रोजेक्ट्स का शीलान्यास भी किया गया। अखिलेश यादव ने अपने नए प्रोजेक्ट ‘शान ए अवध’ की भी नींव रखी। 500 करोड़ का वह प्रोजेक्ट कमर्शल सेंटर बनाने का है। 56 एकड़ की वह जगह गोमतीनगर एक्सटेंशन के पास है। स्वास्थ के क्षेत्र में अखिलेश ने 80 अलग-अलग प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया। 390 करोड़ के उन प्रोजेक्ट्स में बलरामपुर हॉस्पिटल में नई ओपीडी, 11 सामुदायिक हेल्थ सेंटर, चार मेटरनिटी विंग जिसमें प्रत्येक में 100 बेड होंगे। इसके अलावा राज्य में 23 मेटरनिटी विंग और बनेंगे जिसमें प्रत्येक में 30 बेड होंगे। इसके अलावा दो अमूल प्लांट का भी उद्घाटन हुआ। जिसमें से एक कानपुर और दूसरा लखनऊ में है।

इन्हीं कार्यकर्मों में से एक में बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी संतुलित विकास में यकीन रखती है। इसके अलावा उन्होंने एनडीए सरकार पर कई तरह के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि एनडीए ने पहले ‘लव जिहाद’ को मुद्दा बनाया, फिर बॉर्डर पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ को और अब नोटबंदी। उन्होंने आगे बताया कि वह 22 दिसंबर को ‘समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेसवे’ का शीलान्यास करेंगे। जो कि लखनऊ और बलिया को आपस में जोड़ेगा।

गौरतलब है कि अगले साल फरवरी में उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं। माना जा रहा है कि अखिलेश ने इतनी तेजी से यह सब काम उसको ध्यान में रखकर ही किया है। इस बार भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक को मुद्दा बनाकर चुनाव में उतर सकती है। पार्टी को लगता है कि इन दोनों मुद्दों को लेकर वह यूपी में कब्जा करने में कामयाब हो सकती है। वहीं सपा और बाकी पार्टी नोटबंदी से लोगों को हो रही परेशानी को मुद्दा बनाएंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 छेड़खानी का विरोध ​करने पर सरेआम ​पति-पत्‍नी को पीटा, महिला ने दी धमकी- अरेस्‍ट नहीं किया तो गोली मार लूंगी