ताज़ा खबर
 

यूपी: बस के फ्लोर में छेद से नीचे गिरा लड़का, गाड़ी के नीचे कुचलकर मौत

अनुष्का का कहना है कि कई बार छात्रों ने स्कूल प्रबंधन को बस की खराब हालत को लेकर शिकायत भी की, लेकिन स्कूल प्रबंधन ने इसपर ध्यान देना उचित नहीं समझा। मंगलवार को उसका भाई बस के प्लोर में बने बड़े से छेद के अंदर से सड़क पर जा गिरा।

प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर प्रदेश के स्कूलों में चल रहे बसों की खास्ता हालत कई बार मीडिया की सुर्खियों में रहती है। लेकिन स्कूल प्रशासन बार-बार स्कूल बसों की समय-समय पर जांच करवाने और उनके बिल्कुल ठीक होने का दावा करते रहते हैं। इस बार एक स्कूल की जर्जर बस ने 13 साल के एक छात्र की जान ले ली। घटना बीते मंगलवार (3 जुलाई) की है। मिली जानकारी के मुताबिक आगरा के खेरागढ़ शहर में यह घटना हुई। छठी क्लास में पढ़ने वाला मासूम आदित्य पूरन चंद रमेश चंद सरस्वती विद्या मंदिर का छात्र था। मंगलवार को स्कूल से घर लौटते वक्त बस के फ्लोर में बने छेद से आदित्य जमीन पर गिर गया और पहियों के नीचे आ जाने से उसकी मौत हो गई। आदित्य की बड़ी बहन अनुष्का भी इसी स्कूल की 11वीं कक्षा की छात्र थी। घटना के वक्त अनुष्का भी बस में मौजूद थी।

अपने छोटे भाई को खोने से बेहद दुखी अनुष्का ने रोते-रोते बतलाया कि उसके स्कूल बस की हालत काफी खराब थी। बस का फ्लोर काफी कमजोर था। कई बार स्कूल जाने या आने के दौरान बस बीच सड़क पर बंद भी हो जाती थी और बच्चे स्कूल बस को धक्का दिया करते थे। अनुष्का का कहना है कि कई बार छात्रों ने स्कूल प्रबंधन को बस की खराब हालत को लेकर शिकायत भी की, लेकिन स्कूल प्रबंधन ने इसपर ध्यान देना उचित नहीं समझा। मंगलवार को उसका भाई बस के प्लोर में बने बड़े से छेद के अंदर से सड़क पर जा गिरा।

पहियों के नीचे आने से घटनास्थल पर ही आदित्य की मौत हो गई। इस घटना के बाद यहां स्थानीय लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। लोगों ने यहां आदित्य के मृत शरीर के साथ खेरगढ़ की सड़कों पर प्रदर्शन किया और रोड जाम कर दिया। बतलाया जा रहा है कि बस का रजिस्ट्रेशन नंबर हिमाचल प्रदेश का है। बहरहाल इस मामले में मृत बच्चे के घरवालों ने थाने में अपनी रिपोर्ट दर्ज करा दी है। पुलिस ने बस के ड्राइवर इस्लाम को गिरफ्तार कर लिया है और बस को सीज कर लिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App