ताज़ा खबर
 

यूपी: सीएम योगी और RSS पर पोस्ट की थी आपत्तिजनक टिप्पणी, पांच के खिलाफ केस दर्ज

आरोपी ने यूपी के मुख्यमंत्री और आरएसएस के खिलाफ अपने फेसबुक पोस्ट में अपमानजनक टिप्पणियां कीं। 14 नवंबर को फेसबुक पोस्ट के बाद स्थानीय लोगों ने विरोध किया और एफआईआर दर्ज करने की मांग की।

सीएम योगी आदित्यनाथ। (express photo)

पुलिस ने यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ और आरएसएस के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में आईटी अधिनियम के तहत पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने कहा कि गुरुवार को राणा सुल्तान जावेद, जीशान, हारून खान, शफीक और किंग खान के खिलाफ सिटी पुलिस स्टेशन में गौरव गुप्ता ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी। आरोपी ने यूपी के मुख्यमंत्री और आरएसएस के खिलाफ अपने फेसबुक पोस्ट में आपत्तिजनक टिप्पणियां कीं। 14 नवंबर को फेसबुक पोस्ट के बाद स्थानीय लोगों ने विरोध किया और एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। सर्विलांस सेल की सहायता से 1 आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी आरोपी अभी फरार है जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

यह पहली बार नहीं है जब किसी को सीएम योगी आदित्यनाथ पर टिप्पणी के चलते पुलिस कार्रवाई का सामना करना पड़ा है। अप्रैल 2017 में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनते ही उनके एक भाषण को लेकर मुजफ्फरनगर के जाकिर अली त्यागी ने टिप्पणी की थी, जिसके बाद पुलिस ने जाकिर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। जाकिर पर पुलिस ने धारा 66 (आईटी एक्ट) के तहत मामला दर्ज किया था और उसे लगभग 40 दिन जेल में बिताने पड़े थे।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार 16 नवंबर को सुबह अचानक लखनऊ पुलिस लाइन पहुंचे। यहां पहुंचते ही उन्होंने सबसे पहले शस्त्रागार का निरीक्षण किया। फिर गोला बारूद कक्ष में पहुंचे। यहां गंदगी और सीलन देख कर उन्होंने अफसरों से नाराजगी व्यक्त की साथ ही कहा कि सफाई व्यवस्था के लिए रोस्टर जारी करें। इसके बाद मुख्यमंत्री बैरक, मेस और आरटीसी पहुंचे। यहां भी कई जगह गंदगी मिलने पर नाराजगी जताई। मेस मैं मौजूद महिला रिक्रूट से पूछा कि आप लोगों को कोई समस्या। सब ने कहा सब ठीक है। सीएम योगी 16 नवंबर को कानपुर में लगे डिफेंस एक्सपो-2018 में पहुंचे थे। 14 तारीख से चल रहा 3 दिन का डिफेंस एक्सपो आज खत्म हो गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App