ताज़ा खबर
 

महिलाओं से छेड़खानी करता था पुजारी, किन्नरों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, मंदिर में जमकर बवाल

ग्रामीणों का कहना है कि स्थानीय शिव मंदिर का मुख्य पुजारी मंदिर परिसर में एक विधवा के साथ रहता है, जिसके पति की लाश चार साल पहले एक पेड़ पर लटकी मिली थी। महिला की ननद का कहना है कि पुजारी सालों से उसकी रिश्तेदारों से छेड़खानी करता आ रहा था। यही नहीं, उसने उन महिलाओं से मंदिर में साथ रहने के लिए कहा था।

पुजारी के चेले की पिटाई करता किन्नर व मंदिर परिसर में खड़ी कार पर वार करती महिला। (फोटोः यूट्यूब)

उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर में खुद को पुजारी बताने वाले एक शख्स की काली करतूत का मामला सामने आया है। आरोप है कि पुजारी महिलाओं के साथ छेड़खानी करता था। सोमवार (16 अप्रैल) को आरोपी की पिटाई का वीडियो सामने आया है। क्लिप में कुछ महिलाएं उसकी पिटाई कर रही थीं। मामला ग्रेटर नोएडा के धूम मानिकपुर गांव का है। आरोपी यहां बीते 15 साल से रह रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि स्थानीय शिव मंदिर का मुख्य पुजारी कन्हैया लाल गिरी (45) मंदिर परिसर में एक विधवा के साथ रहता है, जिसके पति की लाश चार साल पहले एक पेड़ पर लटकी मिली थी।

महिला की ननद का कहना है कि पुजारी सालों से उसकी रिश्तेदारों से छेड़खानी करता आ रहा था। यही नहीं, उसने उन महिलाओं से मंदिर में साथ रहने के लिए कहा था। पुजारी जब अपनी हरकतों से बाज नहीं आया तो लोगों के सब्र का बांध टूट गया और उन्होंने उसकी जमकर पिटाई कर दी। मामले की जानकारी मिलने पर किन्नरों और पुलिस ने भी उसकी धुनाई की।

घटना से संबंधित वायरल हुई क्लिप आठ अप्रैल की बताई जा रही है, जिसमें साफ तौर पर पुजारी की काली करतूतों के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूटता दिखा। वीडियो में कुछ बुजुर्ग महिलाएं मंदिर परिसर पर धावा बोलती हैं। गिरी और उसके चेले इस दौरान धरे जाते हैं और उनकी जमकर पिटाई होती है। हालांकि, गिरी और उसके साथ मंदिर परिसर में रह रही महिला बाद में भाग गई थी।

घटना को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने मंदिर परिसर में तोड़-फोड़ की और बाहर खड़ी एसयूवी कार को भी नुकसान पहुंचाया। सूत्रों के अनुसार, गिरी को मंदिर में पुजारी के तौर पर किसी ने रखा नहीं था। तकरीबन 15 साल पहले वह अपने आप मंदिर आया था और तब से वह यहीं है। यही नहीं, मंदिर कमेटी और उसके सदस्यों की गैरहाजिरी में वह मंदिर के मामलों में भी दखल देता था।

पीड़त ननद इस बाबत गिरी के पास पूर्व में कई बार गई और उसने अपनी भाभी के साथ उसके संबंध पर एतराज जताया। आरोपी पुजारी ने इस पर उसे जान से मारने की धमकी देते हुए इस मामले से दूर रहने को कहा। एक ग्रामीण के अनुसार, मंदिर पवित्र जगह होती है। वह गंदी नीयत से महिला श्रद्धालुओं को छूता था। लेकिन उनमें से कुछ ही खुलकर छेड़छाड़ की बात को उजागर करती हैं।

अब पानी सिर से ऊपर जा चुका है, क्योंकि लोगों ने मंदिर पर धावा बोला है। वहीं, पुलिस का कहना है कि उन्हें अभी तक शिकायत नहीं मिली है। बादलपुर पुलिस थाने के एसएचओ मुकेश कुमार बोले, “आरोपी पुजारी महिला के साथ फरार है। हमें अभी तक उन दोनों के खिलाफ कोई शिकायत नहीं मिली है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App