ताज़ा खबर
 

आगरा: लड़की ने लड़का बन लड़की से कर ली शादी, अब अलग होने से कर रहीं इन्कार

लड़कियों के घर वालों के सामने जब शादी के पीछे की असलियत सामने आई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई थी। परिजन ने इस बाबत जमकर बवाल काटा। मामला इतना बढ़ गया कि पुलिस को दखल देनी पड़ी। लेकिन वे दोनों अलग होने से इन्कार कर रही हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

उत्तर प्रदेश के आगरा में एक लड़की ने लड़का बनकर लड़की से ही शादी कर ली। घर वालों के सामने जब शादी के पीछे की असलियत सामने आई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। परिजन ने इस बात पर जमकर बवाल काटा। लेकिन वे दोनों लड़कियां अब अलग होने से इन्कार कर रही हैं। यह अनोखा मामला ताज नगरी के थाना एत्माद्दौला का है।

कॉलेज में थी सखियांः 16 अप्रैल को ये लड़कियां सामूहिक विवाह सम्मेलन में शरीक हुईं। दोनों ने बौद्ध धर्म की विधि से शादी रचाई। कॉलेज के दिनों में उनके बीच प्रेम परवान चढ़ा था। दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें भी खाई थीं। लेकिन उनकी बेइंतेहा मोहब्बत के बीच समाज और घर वाले रोड़ा बन रहे थे।

ऐसे रची साजिश: ऐसे में उन्होंने एक-दूजे का होने के लिए धोखे से शादी की साजिश रची। उन्होंने इलाके में होने वाले सामूहिक विवाह सम्मेलन में अपना पंजीकरण कराया था। एक दूल्हा बनी, जबकि दूसरी दुल्हन। सात फेरे लिए। पवित्र मंत्रों और रस्मों के बाद शादी संपन्न हो गई।

भाड़े पर बुलाए परिजन: विवाह सम्मलेन वालों को लड़कियों और उनकी शादी पर संदेह न हो, लिहाजा उन्होंने किराए पर लोग बुलाए। पैसे के बदले लड़कियों ने उनसे अपना परिजन बनने की एक्टिंग कराई।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

कैसे हुआ खुलासा?: शादी के बाद वे किराए पर कमरा लेकर अलग रहने लगीं। इसी बीच दोनों में एक लड़की के घर से गायब होने पर परिजन परेशान। उन्होंने बेटी की तलाश शुरू की। पता लगा कि बेटी ने लड़का बनकर किसी लड़की से ही शादी रचा ली। वह किराए पर कमरा लेकर उसी के साथ रहती है।

पुलिस भी ‘भ्रमित’: यह खुलासा 21 अप्रैल (शनिवार) को हुआ। दोनों के परिजन यह जानकर दंग थे। उन्होंने बेटियों को अलग होने के लिए लाख समझाया। मगर वे अलग होने की बात पर नहीं मानीं। परिजन मामले में मदद के लिए थाने पहुंचे। फिर भी लड़कियां साथ रहने पर अड़ी हैं। ऐसे में पुलिस भी कार्रवाई को लेकर भ्रमित है। पुलिस अधिकारियों को समझ नहीं आ रहा है कि वह ऐसे में क्या करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App