ताज़ा खबर
 

UP: बिना वीजा 18 सालों से मथुरा में रह रहे 3 विदेशी गिरफ्तार, किराए के घर में करते थे भजन कीर्तन

उत्तर प्रदेश के मथुरा में 18 साल से रह रहे तीन विदेशी नागरिको को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार ये यहां टूरिस्ट वीजा पर ओवरस्टे कर रहे थे।

Author मथुरा | June 17, 2019 5:52 PM
प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

उत्तर प्रदेश के मथुरा में खुफिया विभाग ने बिना वैध दस्तावेजों के रह रहे तीन विदेशी नागरिको को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि ये विदेशी पिछले 18 सालों से मथुरा में अवैध तरीके से रह रहे थे। बता दें कि यह गिरफ्तारी गोवर्धन क्षेत्र के राधाकुण्ड कस्बे में हुई है। मामले में पुलिस उनसे पूछताछ कर उनपर कार्रवाई कर रही है।

टूरिस्ट वीजा पर ओवरस्टेः पुलिस के अनुसार गिरफ्तार विदेशियों में से एक पिछले पांच वर्ष से यहां रह रहा था। मामले पर जानकारी देते हुए अधिकारियों ने कहा ये टूरिस्ट वीजा पर यहां ओवरस्टे कर रहे थे। पुलिस अधिकारियों के अनुसार , ‘‘गोवर्धन और राधाकुण्ड में प्रति वर्ष हजारों विदेशी नागरिक गिरिराज भक्ति के लिए आते हैं। दर्जनों विदेशी श्रद्धालु टूरिस्ट वीजा पर आकर यहां रहते भी हैं। कुछ तो वीजा का समय समाप्त हो जाने के बाद भी नहीं जाते। यह गैरकानूनी है। इसलिए कार्रवाई कर उन्हें वापस भेजना पड़ता है।’’

National Hindi News, 17 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

भजन कीर्तन के लिए किया ओवरस्टेः पुलिस ने शुरूआती जांच में पाया कि यह तीन विदेशी नागरिक राधाकुंड में रहते थे। वे किराए पर रूम लेकर यहां रहते थे और भजन कीर्तन करते थे। बीट प्रभारी सोमदत्त शर्मा के अनुसार, ‘पकड़े गए तीन विदेशियों में से एक यूक्रेन निवासी वाल्दीजेव ईगौर उर्फ ईशान, रूस निवासी फोरसेव वास्ली उर्फ भक्ति प्रसाद और लातविया निवासी दमित्री पौलुकस हैं।’

Bihar News Today, 17 June 2019: बिहार से जुड़ी हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

दूतावासों को जानकारी दी गईः पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इनमें से एक दमित्री पौलुकस पर पिछले दिनों राजस्थान के एक सिरफिरे युवक ने जानलेवा हमला भी किया था। उन्होंने यह भी बताया कि इन सभी विदेशी नागरिकों के बारे में उनके दूतावास को जानकारी दिए जाने के बाद उन पर विधिक कार्यवाही की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App