ताज़ा खबर
 

UP: तपती धूप में सरकारी स्कूल के बच्चों से उठवाए जूतों के बोरे, वीडियो VIRAL होने के बाद शिक्षा विभाग ने दिए जांच के आदेश

दोपहर की तपती गर्मी में टूंडला न्याय पंचायत में बांटे जाने वाले जूतों को ढोने के लिए मासूम स्कूली बच्चों को लगा दिया गया।

टूंडला के एक सरकारी स्कूल में बच्चों के सिर पर जूते भरे बोझे फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

देश में सरकारी स्कूलों की बदहाली दूर करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें कई कदम उठा रही हैं। लेकिन इस बीच उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले से एक हैरान कर देने वाला सामने आया है। यहां एक सरकारी स्कूल में बच्चों का एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें जूतों से भरे बोरे को बच्चे अपने सिर पर उठा कर ले जा रहे हैं। इसके बाद वहां मौजूद कुछ लोगों ने इस घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया। शिक्षा विभाग ने यह वीडियो सामने आने के बाद शनिवार को जांच का आदेश दिएं है।

National Hindi News, 12 May 2019 LIVE Updates: दिन भर की खबरों के लिए क्लिक करें

क्या है मामला: पूरा मामला फिरोजाबाद के टूंडला बीआरसी का बताया जा रहा है। वायरल होते वीडियो के मुताबिक यहां संचालित एक जूनीयर प्राइमरी स्कूल के बच्चों के सिर पर जूते की बोरियों को उठवाकर दूसरी जगह रखवाया जा रहा था। बताया जा रहा है कि एक बच्चा बोरी सिर पर रखते समय गिर गया तो वहीं दूसरे बच्चे से बोरी नहीं उठ रही थी। आरोप है कि ऐसे ही कई बच्चों से वहां के शिक्षकों द्वारा जूते की बोरियों को उठवाया गया। मामला शुक्रवार का बताया जा रहा है।

क्या है आरोप: स्कूल पर आरोप है कि भरी दोपहर में टूंडला न्याय पंचायत में बांटे जाने वाले जूतों को करीब 150 मीटर दूर बने भवन में रखने के लिए स्कूल के बच्चों को लगा दिया गया। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। इस घटना के सामने आने के बाद शिक्षा विभाग ने जांच की बात कही है।

बीएसए का बयान: जिला शिक्षा अधिकारी अरविंद पाठक ने कहा कि अगर छात्रों के सिर पर बोरी ढोने का आरोप सही पाया गया तो हम मामले में दोषी व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App