ताज़ा खबर
 

यूपी: सपा नेता ने थाने में सिपाही को खूब गालियां दीं, तमाशा देखने वाला इंस्‍पेक्‍टर लाइन हाजिर

इंस्पेक्टर भी उस दौरान मौके पर थे, पर वह सिर्फ तमाशा ही देखते रह गए। घटना के दौरान न तो उन्होंने बीच-बचाव किया। न ही बाद में सपा नेता के खिलाफ किसी प्रकार की कार्रवाई की गई।

किला थाना में सयुस नेता वैभव गंगवार। (फोटोः यूट्यूब)

उत्तर प्रदेश के बरेली में समाजवादी युवजन सभा (समाजवादी पार्टी की युवा इकाई) के एक नेता ने पुलिस थाने के अंदर सिपाही को खूब गालियां दीं। इंस्पेक्टर भी उस दौरान वहां मौजूद थे, पर वह सिर्फ तमाशा ही देखते रह गए। घटना के दौरान उन्होंने न तो बीच-बचाव किया और न ही बाद में सपा नेता के खिलाफ किसी प्रकार की कार्रवाई की। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद मामला ऊपर तक पहुंचा, जिसके बाद इंस्पेक्टर लाइन हाजिर कर दिए गए।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यह मामला थाना किला से जुड़ा है। समाजवादी युवजन सभा के जिलाध्यक्ष वैभव गंगवार ने इंस्पेक्टर केके वर्मा के सामने कुछ दिन पहले एक सिपाही को गालियां दी थीं। गुरुवार को एसएसपी मुनिराज जी ने उसी संबंध में इंस्पेक्टर को तमाशबीन बने रहने पर लाइन हाजिर कर दिया। हालांकि, वैभव को जिस मामले में गिरफ्तार कर के लाया गया था, उसकी पुलिस ने रिपोर्ट लिखी थी। पर थाने के भीतर हुई गाली-गलौच की घटना पर वह इंस्पेक्टर चुप्पी साधे रहे।

गाली-गलौज के दौरान किसी ने नेता का वीडियो बना लिया था, जो सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स पर जमकर वायरल हुआ था। यह डीजीपी के समक्ष पहुंचा तो उनकी ओर से किला पुलिस को फोन किया गया। थाने में इसके बाद खलबली मच गई। पुलिस ने आनन-फानन में वैभव के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया और बाद में उसे जेल भेजा।

यही नहीं, रात को एसएसपी ने इंस्पेक्टर वर्मा को भी लाइन हाजिर कर दिया। साथ ही तीन अन्य इंस्पेक्टरों के कार्यक्षेत्र भी बदल दिए। इंस्सपेक्टर उपेंद्र सिंह को इज्जतनगर की कमान सौंपी गई है। वह कुछ दिनों से छुट्टी पर थे और हाल ही में ड्यूटी पर लौटे हैं। वहीं, कैंट के इंस्पेक्टर धर्मेंद्र कुमार को किला का जिम्मा का सौंपा गया है, जबकि नवाबगंज में अतिरिक्त इंस्पेक्टर देवेंद्र कुमार को कैंट का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App