ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश: जासूसी के आरोप में सेना का जवान मेरठ कैंट से अरेस्‍ट, हुई पूछताछ

आरोपी जवान सिगनल रेजीमेंट का बताया जा रहा है।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

उत्तर प्रदेश में बुधवार (17 अक्टूबर) को मेरठ कैंट से सेना का एक जवान गिरफ्तार कर लिया गया। न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, उस पर जासूसी करने का आरोप लगा है। जांच अधिकारियों ने उससे उसी संबंध में पूछताछ की। खबर लिखे जाने तक उसकी पहचान के बारे में कोई खुलासा नहीं किया गया। पर आरोपी जवान सिग्नल रेजीमेंट का बताया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उस पर सेना की गोपनीय जानकारियां भी लीक करने का आरोप है।

जवान की गिरफ्तारी के बाद जांच एजेंसियां यह भी पता लगाने में जुटी हैं कि कहीं और लोग भी तो उसके साथ जासूसी में नहीं शामिल थे। आपको बता दें कि इससे पहले महाराष्ट्र के नागपुर स्थित ब्रह्मोस यूनिट से ऐयरोस्पेस इंजीनियर निशांत अग्रवाल को जासूसी के आरोप में पकड़ा गया था।

महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश एंटी टेरर स्क्वॉड (एटीएस) की संयुक्त कार्रवाई में उसे गिरफ्तार किया गया था। पूछताछ के लिए उसे नागपुर से लखनऊ लाया गया था। आरोप है कि वह पाकिस्तानी इंटेलिजेंस एजेंसियों के संपर्क में था। वह उनसे फेसबुक पर नेहा शर्मा और पूजा रंजन नाम की आईडी से चैट करता था।

यूपी एटीएस के एक अधिकारी के अनुसार, “बेहद संवेदनशील काम से जुड़े होने के बाद भी अग्रवाल इंटरनेट पर सक्रिय रहता था। वह इसी वजह से टारगेट बना। वह उसके अलावा लिंक्डइन पर भी सक्रिय था।”

अग्रवाल पर ऑफिशिलय सीक्रेट्स एक्ट की धारा 3,4,5 और 9, भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 419, 420, 467, 468, 120 (बी) और 121 (ए) व आईटी एक्ट की धारा 66 (बी) के तहत मामला दर्ज किया गया था। खबर लिखे जाने तक उसके उसके खातों की जांच-पड़ताल जारी थी। रिपोर्ट्स के अनुसार, उसके निजी कंप्यूटर में ऐसी गोपनीय और संवेदनशील जानकारियां पाईं गई, जो उसमें नहीं होनी चाहिए थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App