ताज़ा खबर
 

Uttar Pradesh: कांग्रेस से हाथ मिलाने को शिवपाल तैयार, SP-BSP गठबंधन को बताया ठगबंधन

सपा और बसपा के गठबंधन पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया और अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि सीबीआई के डर से यह गठबंधन तैयार हुआ है।

शिवपाल यादव। (Photo: ANI)

लोकसभा चुनावों के मद्देनजर हुए सपा और बसपा के गठबंधन पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया और अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि सीबीआई के डर से यह गठबंधन तैयार हुआ है। सपा-बसपा गठबंधन को शिवपाल ने ठगबंधन तक करार दिया। उन्होंने कांग्रेस के साथ गठबंधन में रूचि दिखाते हुए कहा कि यदि कांग्रेस हमसे संपर्क करेगी तो मैं उससे गठबंधन के लिए पूरी तरह तैयार हूं।

बता दें कि समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव और बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने एक प्रेसवार्ता के दौरान दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन का ऐलान किया था। जिसके बाद से ही शिवपाल यादव दोनों पार्टियों के गठबंधन पर हमलावर दिख रहे हैं। न्यूज एजेंसी ANI के अनुसार शिवपाल यादव ने कहा कि सपा-बसपा गठबंधन एक ‘ठगबंधन’ है। साथ ही कहा कि सपा-बसपा गठबंधन पैसों के लिए है। उन्होंने आरोप लगाया कि ये भी हो सकता है कि गठबंधन से पहले ही पैसों का लेन-देन हो गया हो। शिवपाल ने कहा कि उनकी पार्टी कांग्रेस के साथ गठबंधन के लिए तैयार है। उन्होंने साफ किया कि अभी तक कांग्रेस के साथ गठबंधन को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई है, लेकिन जितने भी सेक्युलर दल हैं उनमें से एक कांग्रेस भी है, अगर वह हमसे संपर्क करेगी, हमसे बात करेगी, तो मैं बिल्कुल तैयार हूं।

गौरतलब है कि इसके पहले शिवपाल ने कहा था कि सपा-बसपा गठबंधन प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के बिना अधूरा है। शिवपाल के मुताबिक केवल एक धर्मनिरपेक्ष मोर्चा ही बीजेपी को हरा सकता है। बता दें कि लोकसभा चुनाव में सपा-बसपा ने 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया और कांग्रेस के लिए दो सीटें छोड़ी है। जिसके बाद बाद कांग्रेस ने भी साफ कर दिया कि वह उत्तर प्रदेश में सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

बता दें कि सपा में उपेक्षा की बात कहकर पार्टी से अलग होने के बाद शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी-लोहिया नाम से अलग पार्टी बनाई है। वह अब भी जसवंतनगर सीट से एसपी के विधायक हैं। वह सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के चाचा और मुलायम सिंह के भाई है। फिलहाल शिवपाल के अनुसार वह कांग्रेस पार्टी के संपर्क में है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App