ताज़ा खबर
 

VIDEO: बीजेपी नेता के साथ थाने पहुंची भीड़, पुलिस से की मारपीट

फतेहगंज पश्चिमी पुलिस थाने में पुलिस वालों की पिटाई के बाद कुछ लोगों ने उसका वीडियो रिकॉर्ड कर लिया था, जो कि सोशल मीडिया के जरिए सामने आया है।

Author Updated: October 17, 2018 6:32 PM
बरेली में थाने के बाहर फटी हुई वर्दी में खड़े पुलिसकर्मी। (फोटोः टि्वटर/@PiyushRaiTOI)

उत्तर प्रदेश के बरेली स्थित एक पुलिस थाने में भीड़ ने मंगलवार (16 अक्टूबर) रात जमकर बवाल काटा। आरोप है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के स्थानीय नेता के नेतृत्व में भीड़ थाने में घुस आई थी। लोगों ने उस दौरान वहां पुलिसकर्मियों की जमकर पिटाई की। घटना के दौरान कुछ पुलिस वालों की वर्दी भी फट गई थी। हालांकि, बाद में सूचना पर थाना प्रभारी ने हालात संभाले और उपद्रवियों को भगाया। पुलिस ने उसी बीच एक शख्स को हिरासत में लिया, जो कि भीषण शराब के नशे में था।

फतेहगंज पश्चिमी पुलिस थाने में हंगामे के बाद पुलिस ने ही पीड़ित पुलिसकर्मियों का वीडियो रिकॉर्ड किया, जो कि सोशल मीडिया के जरिए बुधवार (17 अक्टूबर) को सामने आया। क्लिप में थाने के बाहर कुछ पुलिसकर्मी फटी हुई वर्दी में नजर आ रहे थे। उनके चेहरे और हालत देख कर लग रहा था कि उनकी किसी से मारपीट हुई थी।

देखें, घटना के बाद कैसा था पुलिस वालों का हाल- 

एएनआई के मुताबिक, थाने पहुंची भीड़ का नेतृत्व इलाके के एक बीजेपी नेता ने किया था। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो रामलीलास्थल के पास से पुलिस ने दो लोगों को शराब पीकर लड़ने के आरोप में पकड़ा था। पुलिस वहां से उन्हें थाने उठा लाई थी, जिन्हें छुड़ाने के लिए कुछ देर बाद बीजेपी नेता के नेतृत्व में भीड़ भी पहुंच गई। आरोप है कि भीड़ ने वहां जमकर नारेबाजी की और फिर पुलिस की पिटाई की।

बताया गया कि घटना के दौरान चौकी प्रभारी और तीन सिपाही समेत होमगार्ड की वर्दी फट गई थी। तत्काल थाना प्रभारी को इस बारे में सूचना दी गई, जिसके बाद उन्होंने मौके पर आकर मोर्चा संभाला। झगड़ा करने वालों की पहचान इशहाक और संजू के रूप में हुई है, जिसमें से संजू को छुड़ाने के लिए लोग पुलिस थाने पहुंचे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Sabarimala Temple Case: सबरीमाला विवाद: वाम मोर्चा सरकार के खिलाफ एकजुट भाजपा और कांग्रेस, सड़कों पर उतरे नेता
2 रेलवे स्टेशन के बोर्डों पर नहीं बदला गया नाम, तो RRS ने चिपकाए प्रयागराज के पोस्टर
ये पढ़ा क्या?
X