ताज़ा खबर
 

यूपी के 39 जिलों में ऊंचे पदों पर 46 ठाकुर अफसर- AAP के संजय सिंह ने बनाई लिस्‍ट

संजय ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जातिवाद का मुद्दा उठाने पर उनके विरुद्ध देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कराया गया है। लेकिन डरकर वह कहीं भागने या छिपने वाले नहीं हैं।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: September 28, 2020 1:17 PM
uttar pradesh, sanjay singhसांसद संजय सिंह ने उत्तर प्रदेश में एक सर्वे किया है। (file)

आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद संजय सिंह ने उत्तर प्रदेश में एक सर्वे किया है। संजय सिंह ने रविवार को कहा कि मैंने एक सर्वे कराया था, जिसमें लोगों से पूछा था कि क्या योगी सरकार जातिवादी और ठाकुरवादी है? जिसमें 63 फीसदी जनता ने कहा था कि योगी सरकार जातिवादी है और 29 फीसदी ने कहा था कि ऐसा नहीं है।

संजय ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जातिवाद का मुद्दा उठाने पर उनके विरुद्ध देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कराया गया है। लेकिन डरकर वह कहीं भागने या छिपने वाले नहीं हैं। पुलिस को बता दिया है कि वह किसी भी समय गिरफ्तारी देने को तैयार हैं। संजय सिंह ने यूपी के 39 जिलों में ऊंचे पदों रहने वाले अधिकारियों की एक लिस्ट बनाई है। गोमती नगर स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर बातचीत करते हुए संजय सिंह ने कहा कि वह अपने सर्वे पर पूरी तरह कायम हैं। सर्वे में सामने आए तथ्यों को ही उजागर किया है। सरकार बताए कि सर्वे से कहां हिंसा हुई या दंगे हुए? उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी चाहती है कि जातिवाद खत्म हो।

संजय सिंह ने कहा “आज मैं आपको चौंकने वाला तथ्य बनतने जा रहा हूं और जो देश द्रोह का मुकदमा लिखा गया है उसकी सच्चाई का भी पता चल जाएगा कि मैं झूठ बोल रहा था या योगी सरकार दुर्भावना और द्वेष की राजनीति कर रही है।” संजय सिंह ने आगे कहा “मैं उन तमाम जिलों के अधिकारियों के नाम पढ़ रहा हूं, जो एक विशेष जाति से आते हैं, ठाकुर जाति से आते हैं। मैंने बार बार योगीजी से कहा आप ठाकुरों के लिए काम कीजिये लेकिन दूसरी जातियों को परेशान मत कीजिये।”

संजय ने कहा “प्रदेश के 39 जिलों में एक ही जाति विशेष यानी ठाकुर जाति के 46 शीर्ष अधिकारियों की तैनाती है। क्या यह जातिवाद नहीं है? क्या प्रदेश सरकार को शीर्ष पदों पर तैनाती के लिए अन्य जातियों से अधिकारी नहीं मिले। क्या यही भाजपा का रामराज्य है? क्या यही योगी का रामराज्य है?”

संजय ने कहा कि यह सच में अगर आपके सामने ले आऊ तो मैं योगी जी की निगाहों में देश द्रोही हूं। मैं योगी जी से कहना चाहता हूं, आप जिस पद पर बैठे हैं वहां संविधान की सौगंध लेकर बैठे हैं। मैं एक राज्य सभा सांसद होने के नाते में भी संविधान की शपथ लेता हूं और इसलिए मेरी ज़िम्मेदारी है कि किसी राज्य में धर्म और जाती के नाम पर सरकारें ना चलें।”

संजय सिंह ने कहा कि सर्वे को लेकर जिन लोगों के दिमाग में थोड़ा सा भी गलतफहमी रही होगी तो इस आंकड़े के बाद उनके दिमाग में अब कोई भी गलतफहमी नहीं रह जाएगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 विरोध प्रदर्शन के बीच सीएम येदियुरप्पा बोले- नतीजों के लिए 6 महीने तक इंतजार करें
2 बिहार चुनाव: मोदी के सामने भाजपाइयों में मारपीट, पुलिस ने सुरक्षित निकाला; प्रदेश अध्यक्ष के दफ़्तर में कैद हुए कांग्रेस नेता
3 चुनाव से पहले BJP की नई टीम में एपी अब्दुल्लाकुट्टी बने उपाध्यक्ष, पर पार्टी अंदरखाने में ही विरोध; RSS भी बोला- बाहरियों पर ध्यान, पर अंदर वाले नजरअंदाज
यह पढ़ा क्या?
X