ताज़ा खबर
 

Mathura: अवैध कब्जा हटाने गए अफसरों पर ग्रामीणों ने किया पथराव, महिला सिपाही समेत 4 घायल

उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद के एक गांव में चकरोड में पैमाइश कर अवैध कब्जा हटाने गई राजस्व टीम पर ग्रामीणों ने पथराव किया। इस मामले में थाना प्रभारी ने तीन ग्रामीण महिलाओं सहित कुल पंद्रह लोगों को गिरफ्तार किया है।

Author मथुरा | June 25, 2019 12:40 PM
प्रतीकात्मक फोटो फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद के एक गांव में चकरोड की पैमाइश कर अवैध कब्जा हटाने गई राजस्व विभाग की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया जिससे टीम में शामिल महिला सिपाही सहित चार लोग घायल हो गए। बाद में, भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे थाना प्रभारी ने तीन ग्रामीण महिलाओं सहित कुल पंद्रह लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में राजस्व निरीक्षक ने सभी के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

सरकारी जमीन पर कब्जा मुक्त करवाने पहुंचे थेः एसपी (ग्रामीण) आदित्य कुमार शुक्ला ने बताया, “यह घटना मगोर्रा थाने के गांव छपरा की है। जहां कई गांव वालों ने चकरोड की सरकारी जमीन पर कब्जा कर रखा है। राजस्व विभाग के निरीक्षक धर्म सिंह इलाके के दो लेखपालों व पुलिस बल सहित चकरोड की पैमाइश कर सरकारी जमीन कब्जा मुक्त कराने पहुंचे थे।” राजस्व टीम ने बताया कि चकरोड की सरकारी जमीन पर ग्रमीणों ने उपले थापकर कब्जा रखा था।

National Hindi News, 25 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

गांव वालों ने फेंके पत्थरः एसपी आदित्य कुमार शुक्ला ने बताया, “राजस्व कर्मियों ने वहां पहुंचकर जैसे ही पैमाइश का काम शुरु किया, कब्जाधारी गांव वाले विरोध करने लगे। पुलिस ने उन्हें वहां से जाने को कहा तो पथराव करने लगे। जिसमें एक महिला सिपाही मोनी व प्रियंका, सिपाही अवधेश व बेढम सिंह घायल हो गए। पथराव से पुलिस की जीप भी क्षतिग्रस्त हो गई। टीम को जान बचाकर भागना पड़ा।” इसके बाद  अन्य थानों की फोर्स बुलाई गई जिन्होंने पथराव कर रहे ग्रामीणों को लाठी से फटकारते हुए काबू किया। जानकारी के मुताबिक पैमाइश करने गई राजस्व विभाग की टीम ने चरी के खेत में छुपकर अपनी जान बचाई। हालांकि पुलिस फोर्स के मौके पर पहुंचने के बाद स्थिति पर काबू पाया गया और राजस्व विभाग की टीम बाहर आ सकी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App